महाराष्ट्र : अपरिपक्वता या श्रेयवाद ?; अनलॉक की गलफत पर देवेंद्र फडणवीस ने सरकार पर ली चुटकी 

मुंबई, 4 जून : राज्य के जिलों को पांच भागों में बांटकर प्रतिबंधों में छूट दी जाएगी। यह घोषणा राज्य के मदद व पुनर्वसन मंत्री विजय वडेट्टीवार ने की थी।  लेकिन जल्द ही सरकार ने साफ कर दिया कि  राज्य में अभी प्रतिबंध नहीं हटाया गया है।  नए नियम का प्रस्ताव अभी विचाराधीन है।  राज्य के इस भ्रम की स्थिति पर भाजपा ने निशाना साधा है।

वडेट्टीवार की घोषणा के कुछ ही घंटों के बाद राज्य सरकार दवारा इस पर खुलासा किया गया।  इस पर वडेट्टीवार ने यू-टर्न लेते हुए कहा कि पांच चरणों के अनुसार प्रतिबंधों में छूट देने को लेकर सैद्धांतिक मंजूरी दी गई है।  लेकिन अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे लेंगे।  राज्य सरकार के इस गलफत पर कई लोगों ने नाराजगी व्यक्त की है। इस पर विरोधी पक्ष ने भी सरकार को घेरा है। राज्य के विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर राज्य सरकार के कामकाज पर निशाना साधा है।

फडणवीस ने ट्वीट कर पूछा, क्या शुरू, क्या बंद? कहां और कब तक ? लॉक या  अनलॉक ? पत्र परिषद् या प्रेस रिलीज़? अपरिपक्वता या श्रेयवाद  ? इस तरह का सवाल करते हुए राज्य सरकार की गलफत पर तीखा हमला बोला है।

देवेंद्र फडणवीस के साथ मनसे ने भी राज्य सरकार पर चुटकी ली है. वडेट्टीवार साहेब आपके के इस निर्णय की वजह से मुख्यमंत्री को रोज मंत्रालय जाना पड़ सकता है।  आपको कुछ समझ आता है या नहीं?  यह निशाना ,मनसे नेता संदीप देशपांडे ने साधा है।
You might also like

Comments are closed.