Maharashtra |  इंदापुर के पूर्व नगरसेवक ने किसान पर की फायरिंग, एक-दूसरे के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत ; इंदापुर पुलिस स्टेशन में 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज 

भिगवण : Maharashtra | इंदापुर के सातपुते बस्ती  में कृषि जमीन के विवाद में पूर्व नगरसेवक ने एक किसान पर फायरिंग (firing)  की।  इस किसान का नसीब अच्छा था कि यह गोली उनके कान के पास से गुजर  गई।  इसलिए किसान बाल-बाल बच गए।  लेकिन इस घटना से इंदापुर तालुका में खलबली (Maharashtra) मच गई है।  इस मामले में इंदापुर पुलिस ने आरोपी पूर्व नगरसेवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी शेखर पाटिल इंदापुर के  पूर्व  नगरसेवक है।  वे दिवंगत मंगेश पाटिल के पोते है।  गुरुवार 30 सितंबर की दोपहर तीन बजे यह घटना सातपुते बस्ती  पुराने पुणे-सोलापुर नेशनल हाईवे के पास  हुई।
भानुदास पंढ़रीनाथ सातपुते, मेघश्याम वामनराव पाटिल व उनका बेटा गणेश मेघश्याम पाटिल तीनों आपस में जमीन की माप कर रहे  थे।  इसे लेकर ही तीनों में बातचीत हो रही थी। इसी दौरान आरोपी शेखर पाटिल यहां आये और पूछा कि आपलोग जमीन की माप क्यों कर रहे हो ? यह जमीन मेरी है।  यह कहकर  तीनों को धमकाने लगे।  इसी दौरान गणेश पाटिल ने शेखर पाटिल से कहा कि यह जमीन मेरे पिता व भानुदास पंढरीनाथ सातपुते के नाम पर है। तुम्हारा इससे कोई संबंध नहीं है। इसके बाद आरोपी शेखर पाटिल ने तीनों को धमकाया, गाली-गलौज की और धक्का-मुक्की की।
आरोपी शेखर पाटिल का इन तीनों ने विरोध करना शुरू किया।  इस दौरान आरोपी शेखर पाटिल ने गुस्से में पिस्तौल निकाल कर तीनों को वहां रोक कर कहा कि मैं तुम लोगों को जिंदा नहीं छोडूंगा।  यह कहते हुए एक फायर की । यह गोली भानुदास सातपुते के कान के पास से गुजर गई और भानुदास सातपुते की जान बच गई।  इस मामले में भानुदास सातपुते ने इंदापुर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।
शेखर पाटिल ने भी चार लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।  शिकायत में कहा गया है कि गलांडवाड़ी नंबर 1 में श्री स्वामी समर्थ इंटर लॉकिंग विट दुकान से आरोपियों ने पेवर ब्लॉक फेंका था।  इस पर सवाल किया तो आरोपियों ने यह जमीन खुद की बताकर रॉड व डंडे से मारपीट की, गले से 8 तोला का सोने का चेन व शर्ट की जेब से 10 हज़ार रुपए निकाल  लिए।
जमीन के विवाद में हुई फायरिंग की खबर शहर में हवा की तरह फ़ैल गई।  इस घटना के बाद पुलिस परिसर में भारी संख्या में लोग जमा हो गए थे।
घटना की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए बारामती उपविभागीय पुलिस अधिकारी इंगले भी इंदापुर पुलिस स्टेशन पहुंचे थे।  एक-दूसरे के खिलाफ क्रॉस शिकायत के बाद गुरुवार की रात 8 बजे इंदापुर पुलिस स्टेशन में पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया।
You might also like

Comments are closed.