Maharashtra Flood | बड़ी खबर! मोदी ने महाराष्ट्र में बाढ़ प्रभावित किसानों के लिए घोषणा की 700 करोड़ रुपये की सहायता राशि

नई दिल्ली – (Maharashtra Flood) महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है। जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। है सैकड़ों लोगों की मौत हो गयी। महाराष्ट (Maharashtra Flood) के कई गांव डूब गए है। हर तरह पानी ही पानी है। हालांकि धीरे-धीरे स्थिति सामान्य होने लगी है। इस बीच कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) ने मंगलवार को लोकसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए राज्य में किसानों के लिए सहायता की घोषणा की।

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि केंद्र ने बाढ़ प्रभावित महाराष्ट्र के किसानों के लिए करीब 700 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। पिछले कुछ दिनों से राज्य में हो रही मूसलाधार बारिश से कई नदियों में पानी भर गया है। इससे राज्य में कृषि पर भी असर पड़ा है। बाढ़ ने खेतों में पानी भर जाने से फसलों को भी बहा दिया है, जबकि कुछ जगहों पर पानी जमा होने से फसलों को भारी नुकसान हुआ है।

Pune |19 बांधों में 50% से अधिक जल संग्रहण

 जिले के 26 बांधों में से 19 बांधों में 50 फीसदी से ज्यादा पानी जमा हो गया है। पिछले आठ दिनों में हुई मूसलाधार बारिश (heavy rain) के कारण अधिकांश बांधों में भारी मात्रा में पानी (Pune) जमा हो गया है। जल संसाधन विभाग (Department of Water Resources) के मुताबिक, पिछले चार साल में पहली बार इस साल 26 जुलाई को 19 बांधों में 50 फीसदी से ज्यादा पानी जमा हुआ है।

इस साल मई में, चक्रवात के कारण बांधों के आसपास भारी बारिश हुई थी। हालांकि, मानसूनी हवाओं के सक्रिय होने के बाद बारिश थम गई थी। 18 जुलाई की रात लगातार आठ दिनों तक बांध के जलग्रहण क्षेत्र में मूसलाधार बारिश हुई। नतीजतन, जिले के 26 बांधों में से 19 बांधों में 50 प्रतिशत से अधिक जल भंडार जमा हो गया है। जल संसाधन विभाग के अनुसार, इनमें से  कळमोडी, आंद्रा, खडकवासला और वीर बांध 100 फीसदी भरे हुए हैं, जबकि  वडीवळे, पवना, कासारसाई, पानशेत, गुंजवणी और निरा देवघर बांधों में 80 फीसदी से अधिक जल संग्रहण है।

 

You might also like

Comments are closed.