Maharashtra: नागपुर के 89 अस्पताल में ब्लैक फंगस के 439 मरीज

नागपुर: ऑनलाइन टीम- नागपुर में कोरोना संक्रमण कम हो रहा है लेकिन ब्लैक फंगस (म्युकरमायकोसिस) के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। जिले के 89 अस्पताल में अभी इस बीमारी के 439 मरीज भर्ती हैं। इस बीच इस बीमारी में उपयोग में आनेवाले अम्फोटेरिसिन बी का 1150 इंजेक्शन गुरुवार को नागपुर पहुंचा। अभी तक की यह सबसे बड़ी आपूर्ति है लेकिन हिर भी मरीजो की संख्या देखते हुए इंजेक्शन की कमी खत्म नहीं हुई है।

म्युकरमायकसोसिस से पीड़ित बहुत से मरीजो को ठीक करने के लिए एमफोटेरेसिन बी के 40 इंजेक्शन लगाए जाते हैं। बीमारी फैल रही है, इस इंजेक्शन की बड़े पैमाने पर अभाव हो गया है। मरीजों के अरिजन इंजेक्शन कए लिए भटक रहे हैं। काला बाजार भी शुरू हो गया है। परिस्थिति की गंभीरता को देखते हुए सरकार ने इस इंजेक्शन को अपने नियंत्रण में ले लिया है।

अब जिलाधिकारी जिला शल्य चिकित्सक के माध्यम से सीधा अस्पताल में इंजेक्शन वितरित कर रहे हैं। इस वितरण के अनुसार जिले के कुल 89 अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीज हैं। सबसे ज्यादा 237 मरीज सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पताल में हैं। इंदिरा गांधी सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पताल में 104 मरीज का इलाज चल रहा है। खाद्य व औषधि प्रशासन विभाग के अनुसार वर्धा की कंपनी से उत्पादन शुरू होने पर इस इंजेक्शन का अभाव कम होने की संभावना है।

You might also like

Comments are closed.