Loading...

सर्वदलीय बैठक के बाद बोले  केजरीवाल-माफ करें, घर पर ही करें छठ पूजा

Loading...

नई दिल्ली. ऑनलाइन टीम : दिल्ली में कोरोना की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाई गई सर्वदलीय बैठक के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि बैठक के दौरान सभी दलों की तरफ के काफी अच्छे सुझाव मिले हैं, जिन पर सरकार अमल करेगी। छठ पूजा की सार्वजनिक अनुमति कोरोना संक्रमण को देखते हुए नहीं दी जा सकती। इस बात पर लगभग सभी दल एकमत हैं। इसलिए यह समय राजनीति करने का नहीं सेवा करने का है, तभी जनता हमें याद रखेंगे। वैसे सूत्रों ने बताया कि  कोरोना की स्थिति पर चर्चा करने के लिए गुरुवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक हंगामेदार रही। इस दौरान कांग्रेस और भाजपा दोनों ने ही आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के कामों और दावों पर सवाल उठाए।

Loading...

उन्होंने कहा कि छठ पूजा को लेकर पिछले कुछ दिन से राजनीति चल रही है, यह लाखों-करोड़ों लोगों की आस्था का महापर्व है, लेकिन हम सुरक्षा को कभी नजरअंदाज नहीं कर सकते।  ‘आप’ की सरकार छठ पूजा के खिलाफ नहीं है। डॉक्टरों और विशेषज्ञों का ही मानना है कि अगर आप तालाब या नदी के पानी में घुसकर एक साथ छठ पूजा करेंगे और अगर उनमें से किसी एक व्यक्ति को भी कोरोना हुआ तो आप अंदाजा भी नहीं लगा कितनी तादाद में लोग संक्रमित होंगे। आप छठ पर्व अवश्य मनाएं, लेकिन बाहर किसी तालाब में एक साथ न उतरें।

Loading...

मालूम हो कि दिल्ली में पूर्वांचलियों की संख्या अच्छी-खासी है। इस कारण वो चुनावों में प्रभावी भूमिका निभाते हैं। इसलिए भाजपा ने इसके राजनीतिकरण की भी कोशिश की। लेकिन अदालत की टिप्पणी ने सभी को शांत करा दिया। अदालत ने दो टूक कहा कि जिंदा रहोगे, तभी तो कोई त्योहार मना पाओगे।

बावजूद इसके बीजेपी पूर्वांचल मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को सीएम आवास पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में दिल्ली बीजेपी के महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह, पूर्वांचल मोर्चा के अध्यक्ष कौशल मिश्रा व अन्य कई लोग मौजूद रहे। दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि जब दिल्ली में मुख्यमंत्री साप्ताहिक बाजारों, मॉल, शराब के ठेकों और ई-रिक्शा को चलाने की अनुमति दे सकते हैं, तो छठ पूजा के आयोजन के लिए अनुमति क्यों नहीं दिया जा सकता। छठ पूजा पर रोक लगा कर मुख्यमंत्री ने लाखों पूर्वांचलियों के साथ भेदभाव किया है और उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है।

दिल्ली बीजेपी के पूर्व चीफ और सांसद ने मनोज तिवारी  ने सीएम अरविंद केजरीवाल को अपशब्द तक बोल दिए है। तिवारी ने ट्वीट कर कहा, ‘कमाल के नमकहराम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। इस बयान पर खूब हंगामा मचा था।

Loading...

Comments are closed.