जस्टिस एनवी रमन्ना होंगे देश के अगले CJI, 24 अप्रैल को संभालेंगे पद

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – न्यायमूर्ति एनवी रमन्ना देश के अगले मुख्य न्यायाधीश होंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इनके नाम पर मंजूरी दे दी है। बता दें कि मौजूदा मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे ने अपने उत्तराधिकारी के तौर पर न्यायमूर्ति एनवी रमन्ना के नाम की सिफारिश की थी। जस्टिस रमन्ना 48 वें सीजेआई होंगे, उनको 17 फरवरी 2014 को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त किया गया था। 23 अप्रैल को सीजेआई एसए बोबड़े की सेवानिवृत्ति के बाद वह 24 अप्रैल 2021 को सीजेआई का पदभार संभालेंगे।

सीजेआई को नियुक्त करने में सुप्रीम कोर्ट के बाद वरिष्ठता मानदंड के अनुरूप जस्टिस रमन्ना के नाम की सिफारिश सीजेआई एसए बोबडे ने देश के सर्वोच्च न्यायिक कार्यालय को संभालने के लिए की थी। 26 अगस्त, 2022 को सेवानिवृत्त होने से पहले जस्टिस रमन्ना 16 महीने से अधिक समय तक CJI के रूप में लंबे समय तक कार्यकाल में रहेंगे। वास्तव में यह लगभग एक दशक तक भारत के मुख्य न्यायाधीश के रूप में सबसे लंबा कार्यकाल होगा।

कौन हैं जस्टिस एनवी रमन्ना –

जस्टिस एनवी रमन्ना का जन्म 27 अगस्त 1957 को आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले के पोन्नवरम गांव में एक किसान परिवार में हुआ। उनका पूरा नाम नथालपति वेंकट रमन्ना है। फिलहाल वह सुप्रीम कोर्ट में जज हैं। रमन्ना ने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट में साल 2000 तक प्रैक्टिस की। इसके बाद 2013 में उन्‍होंने दिल्ली हाई कोर्ट में चीफ जस्टिस का पद संभाला। इसके तीन महीनों के भीतर ही उन्हें सुप्रीम कोर्ट में पोस्टिंग दी गई थी। रमन्ना का कार्यकाल 26 अगस्त 2022 को समाप्‍त हो रहा है। अगले सीजेआई के पद पर वह करीब 16 महीने तक रहेंगे।

You might also like

Comments are closed.