नहीं आ सके जॉनसन, संदेश में कहा- असाधारण संविधान लागू होने के उत्सव की बधाई, जल्द आऊंगा

नई दिल्ली. ऑनलाइन टीम   : भारत के 72वें गणतंत्र दिवस पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन  को मुख्य अतिथि  के तौर पर आमंत्रित किया गया था। वो कोरोना संकट  के कारण भारत  नहीं आ सके, लेकिन उन्होंने शुभकामना संदेश भेजा।  एक वीडियो संदेश में कहा कि यह एक असाधारण संविधान के लागू होने का उत्सव है, जिसने भारत को विश्व में सबसे बड़े संप्रभु लोकतंत्र के तौर पर स्थापित किया। मैं इस गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत आने को लेकर बेहद उत्सुक था। कोरोना ने उत्साह पर पानी फेर दिया। हम चाहते हैं कि दुनिया जल्द से जल्द कोरोना मुक्त हो। इस महामारी ने पूरे साल भर पूरी दुनिया को बांधे रखा। मैं भारत और ब्रिटेन में सभी लोगों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देता हूं। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने आने वाले महीनों में भारत दौरे पर आने की बात भी दोहराई।

ब्रिटेन, भारत और कई अन्य राष्ट्रों के संयुक्त प्रयासों की बदौलत हम कोविड के खिलाफ जीत दर्ज करने की दिशा में बढ़ रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि दोनों देश मिलकर टीका विकसित करने, उसे बनाने और वितरित करने के लिए काम कर रहे हैं, जो मानवता को वैश्विक महामरी से मुक्त करने में मदद करेगा। इस साल भारत आने के लिए उत्सुक हूं, ताकि हमारी दोस्ती को मजबूत कर सकें, रिश्तों को आगे बढ़ा सकें, जिसका संकल्प प्रधानमंत्री मोदी और मैंने किया है।

You might also like

Comments are closed.