जनता राजा शरद पवार का विवेक उनके साथ नहीं है : देवेंद्र फडणवीस 

नाशिक : समाचार ऑनलाइन – महाराष्ट्र के जनता  के राजा शरद पवार के प्रचार के नीचे की जमीन खिसक गई है। उनकी सद्बुद्धि, विवेक फ़िलहाल उनके साथ नहीं है। इस तरह की तीखी टिपण्णी मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने की है। शरद पवार चुनाव से पहले शतक मरना था लेकिन मोदी की गुगली ने उन्हें बारहवां खिलाड़ी बना दिया। इसके बाद देवेंद्र फड़नवीस ने छगन भुजबल पर निशाना साधा। भुजबल का नाम लिए बिना उनके लिए बहरूपिया शब्द का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा की फ़िलहाल हर तरफ बहरूपिये घूम रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाया कि ये बहरूपिया स्वतंत्रता की लड़ाई में गई थे क्या?

नाशिक और डिंडोरी में लोकसभा सीट पर शिवसेना-भाजपा महायुति के उम्मीदवार के प्रचार के लिए प्रधानमंत्री की उपस्थिति में आयोजित विजय संकल्प सभा में देवेंद्र फड़नवीस बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में महायुति की लहर है। उन्होंने लहर में विरोधियों के डगमगाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा की जनता के राजा शरद पवार फ़िलहाल हमलोगों पर खुलेआम टिपण्णी कर रहे हैं। इसलिए उनकी सद्बुद्धि, विवेक उनके साथ नहीं हैं।

फ़िलहाल राष्ट्रवादी की स्तिथि बेहद ख़राब है। शरद पवार ने चुनाव से पहले काफी उत्साह में देश में शतक मारने के लिए निकले थे। लेकिन बदलती हवा को देखते हुए और मोदी की गुगली में पवार सीधे बारहवें खिलाडी बन गए है। छगन भुजबल का नाम लिए बिना कहा कि यह बहरूपिया जोरदार हमले बोल रहा है। भ्रष्टाचार करने की वजह से महाशय जेल गए थे। उन्होंने मोदी के राज में भ्रष्टाचारियो की जगह जेल में होने का दावा किया। नारपर और नदीजोड़ प्रोजेक्ट को लेकर गलतफहमी फैलाई जा रही है। लेकिन गुजरात गई पानी को पालकमंत्री गिरीश महाजन ने वापस ले आया है।

You might also like

Comments are closed.