Jalna | बारिश के कारण फसल बर्बाद, मराठा आरक्षण न होने के कारण नौकरी मिलने में मुश्किल, परेशान युवक ने की आत्महत्या

जालना (Jalna News) : Jalna | महाराष्ट्र (Maharashtra) में पिछले कुछ दिनों से मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) का मुद्दा गंभीर होता जा रहा है। मराठा समुदाय को आरक्षण दिलाने के लिए बड़ी संख्या में मराठा भाइयों ने राज्य भर में आंदोलन (Protest) किया था। उसके बाद मराठा समुदाय के लिए भी आरक्षण की घोषणा की गई। लेकिन हाल ही में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने आरक्षण को रद्द कर दिया है। नतीजतन, कई मराठा युवा निराश (Jalna) हुए हैं।

ऐसे में जालना (Jalna) जिले के परतुर तालुका के आष्टी के यनोरा गांव के एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली है। गाँव में सूखे की वजह से कृषि को नुकसान हुआ और मराठा आरक्षण के न होने के कारण कोई रोजगार नहीं मिल रहा है। ऐसी दुविधा में फंसे एक व्यथित युवक ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।

 

सदाशिव शिवाजी भुम्बर (Sadashiv Shivaji Bhumber) आत्महत्या करनेवाले 22 वर्षीय युवक का नाम है, वह परतुर तालुका के आष्टी क्षेत्र के येनोरा गाँव का रहने वाला है।  मृतक सदाशिव पिछले कुछ दिनों से पुणे में एक निजी कंपनी में काम करता था। उसने इलेक्ट्रीशियन का कोर्स भी किया। हालाँकि, मराठा समाज (Maratha Society) को आरक्षण न मिलने के कारण उसे नौकरी नहीं मिल रही थी। इसलिए बीस-पच्चीस दिन पहले सदाशिव अपने गाँव येणोरा  आया था।

 

उसके पास चार एकड़ का खेत है। हालांकि गांव में लगातार हो रही बारिश के कारण उसे अकाल का भी सामना करना पड़ा था। बारिश ने खेतों में लगी फसल को भी बर्बाद कर दिया। एक तरफ उसने अपनी नौकरी छोड़ दी और दूसरी तरफ, उसने अपनी फसल खो दिया और खुद को आर्थिक कठिनाइयों में पाया। सदाशिव ने अपने घर के लोहे के एंगल से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। आत्महत्या (Suicide) से पहले लिखे एक पत्र में उसने आत्महत्या के कारणों का खुलासा किया है। पुलिस (Police) घटना की आगे जांच कर रही है।

 

 

Pune Corporation | एक ही ठेकेदार को सभी पार्किंग स्थल देने के टेंडर की समय सीमा 4 बार बढ़ाने के बाद भी कोई ‘रिस्पॉन्स’ नहीं, जोन के अनुसार ‘ग्रुप’ बनाकर स्वतंत्र टेंडर निकालने की प्रशासन कर रही तैयारी

Mumbai | पवई आईआईटी हज़ारों मीटर ऊंचे गांवों में ड्रोन के जरिये पहुंचाएगा कोरोना वैक्सीन, केंद्र सरकार से मिली परमिशन

You might also like

Comments are closed.