पुणे रेल मंडल द्वारा मानव संसाधन पर अंतरराष्ट्रीय समिट

पुणे : मध्य रेल के पुणे मंडल द्वारा  शुक्रवार को मानव संसाधन पर  भारतीय रेल अंतरराष्ट्रीय समिट का आयोजन किया गया।  समिट का उद्घाटन अध्यक्ष रेलवे बोर्ड और मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनीत शर्मा ने किया।

समिट का उद्देश्य मानव संसाधन सर्वोत्तम अभ्यास के माध्यम से भारतीय रेलवे की दक्षता में सुधार,  के कृषि, वित्त और अन्य उद्योगों में वृद्धि के प्रभाव को भारतीय रेल के  मानव संसाधन के साथ सहसंबंध  करना, भविष्य के नीतिगत ढांचे के लिए नए विचार और सर्वोत्तम अभ्यास प्रदान करना,  भारतीय रेलवे के कर्मचारियों के प्रशिक्षण के लिए नए तकनीकी विचारों और अनुभवों, समाधानों  को साझा करना है।

महानिदेशक एच.आर. रेलवे, डॉ. आनंद एस. खाती, मध्य रेलवे के महाप्रबंधक संजीव मित्तल, मध्य रेलवे के प्रधान मुख्य कार्मिक अधिकारी डॉ ए.के.  सिन्हा, मंडल रेल प्रबंधक रेणु शर्मा, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी डॉ. तुशाबा शिंदे के साथ राज्य सरकार, कॉर्पोरेट क्षेत्र, अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय विश्वविद्यालयों के प्रमुख वक्ताओं ने समिट में भाग लिया और मानव संसाधन भविष्य की चुनौतियों और भारतीय रेलवे पर इसके प्रभाव पर अपने विचार प्रकट किए।

समिट को संबोधित करते हुए सुनीत शर्मा ने इस प्रकार के समिट के आयोजन पर पुणे मंडल के अधिकारी, कर्मचारियों को बधाई दी।  उन्होंने आगे कहा कि किसी भी संगठन के लिए इस तरह का समिट बहुत महत्वपूर्ण है। एचआरएमएस का कार्यक्रम दो साल पहले भारतीय रेल पर लागू किया गया था।  हमने सेवा रिकॉर्ड और अन्य डेटा को डिजिटल कर दिया है। कोई भी संगठन वैज्ञानिक, तर्कसंगत और तार्किक तकनीक के बिना समृद्ध नहीं हो सकता है।  इसलिए तकनीक पर ध्यान देना हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हो गया है।  हमारा ध्यान कुशल कार्य करने के बजाय प्रभावी कार्य करने पर होना चाहिए।

You might also like

Comments are closed.