Indian Railways | कोरोना में रेलवे को करीब 36 हज़ार करोड़ का नुकसान, रेलवे राज्यमंत्री रावसाहेब दानवे ने दी जानकारी 

भारतीय रेल

मुंबई (Mumbai News), 23 अगस्त : कोरोना के प्रकोप की अवधि में भारतीय रेल (Indian Railways) लॉकडाउन (Lockdown) में बंद कर दिया गया था।  इस अवधि में रेलवे को करोड़ों रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है।  केंद्रीय रैलवे राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे (Union Minister of State for Railways Raosaheb Danve) से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना के प्रकोप की अवधि में भारतीय रेलवे (Indian Railways) को करीब 36 हज़ार करोड़ का नुकसान हुआ है। लेकिन इस अवधि में मालगाड़ियों (freight train) से अच्छी कमाई भी हुई है।

 

मुंबई-नागपुर हाईवे (Mumbai-Nagpur Highway) की तरह इसी मार्ग पर बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट (bullet train project) शुरू करने का विचार होने के संकेत दानवे ने दिए है।  जालना रेलवे स्टेशन (railway station) पर एक अंडरब्रिज प्रोजेक्ट (Underbridge Project) के कार्यक्रम में दानवे उपस्थित थे।
इस मौके पर उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी काल में रेलवे (Railway) को 36 हज़ार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।  जबकि मालगाड़ियों से रेलवे को अच्छी कमाई हुई है।  रेलवे को हुए नुकसान को कम करने में मालगाड़ियों  ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।  इसलिए कुछ राहत मिली है।  इस मौके पर उन्होंने नांदेड़ (Nanded) और मनमाड स्टेशन (Manmad Station) के बीच रेलवे लाइन (Railway Line) के डबल लेन का भी आश्वासन दिया।
उन्होंने यह भी कहा कि तेजस जैसी और कई प्राइवेट ट्रेन (private train) चलाने पर विचार किया जा रहा है।  रेलवे सेक्टर में निजीकरण को बढ़ाने के उद्देश्य से जल्द बड़ा निर्णय लिया जाएगा। इसके लिए निजी कंपनियों से टेंडर आमंत्रित किये जाएंगे।

 

 

Pune- Jammu Tawi Express | किसान आंदोलन की वजह से आज पुणे-जम्मू तवी विशेष ट्रेन रद्द

Solapur Unlock | सोलापुर जिले के पांच तालुके में प्रतिबंधों में ढील; शाम चार बजे तक सभी दुकानें खुली रहेंगी, 50 लोगों को शादी में शामिल होने की अनुमति होगी

 

 

 

 

You might also like

Comments are closed.