Assam-Mizoram हिंसक झगड़े में पुणे का बेटा गंभीर रूप से घायल, सांसद सुप्रिया सुले ने ट्वीट कर की शीघ्र स्वस्थ होने की कामना

नई दिल्ली – (Assam-Mizoram) सीमा विवाद को लेकर पूर्वोत्तर के दो राज्यों असम और मिजोरम का झगड़ा हिंसक हो गया है। असम-मिजोरम बॉर्डर (Assam-Mizoram) के लायलापुर में असम पुलिस के 6 जवान शहीद हो गए हैं। वहीं, 50 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है। असम (Assam) का आरोप है कि मिजोरम (Mizoram) के लोगों ने गोलीबारी की और मिजोरम का आरोप है कि असम पुलिस के जवानों ने आम नागरिकों पर फायरिंग (firing) की।

घायल पुलिसकर्मियों में इंदापुर का एक बेटा भी शामिल है। उसका नाम वैभव चंद्रकांत निंबाळकर है। वह इंदापुर तालुका के सणसर का निवासी है। लेकिन, वर्तमान में वह असम राज्य के कछार जिले के एसपी के पद पर कार्यरत हैं। इस बीच सोमवार को भीड़ के हमले में एसपी वैभव निंबालकर भी गंभीर रूप से घायल हो गए। इस बात की जानकारी एनसीपी नेता और बारामती सांसद सुप्रिया सुले ने दी है। उन्होंने एसपी निंबालकर के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना भी की। निंबालकर का फिलहाल अस्पताल में इलाज चल रहा है।

क्या है मामला –
असम और मिजोरम के नागरिकों के बीच सीमा पर संघर्ष पिछले कई सालों से चल रहा है। हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शिलांग में पूर्वोत्तर राज्यों के सभी मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई थी। बैठक से दो दिन पहले फिर से हिंसा भड़क उठी और दोनों पक्षों के नागरिक आपस में भिड़ गए। घात लगाकर किए गए हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हो गए और उनमें से छह की जान चली गई।

झोपड़ी जलाने पर बढ़ी हिंसा –
असम और मिजोरम की सीमा पर आठ किसानों की झोपड़ियों में आग लगने के बाद हिंसा भड़क गई। आग एक अज्ञात बदमाश ने शुरू की थी और पुलिस उसकी तलाश कर रही है। हालांकि, आग की वजह से पिछले कुछ दिनों से बढ़ रही अशांति को तत्काल कारण मिल गया और संघर्ष छिड़ गया।

You might also like

Comments are closed.