फिर भड़का पेट्रोल: पुणे में दाम 88 रुपये हुआ पार

पुणे। समाचार ऑनलाइन
ईंधन दरवृद्धि के खिलाफ भारत बंद का कोई असर नजर नहीं आ रहा। देश में लगातार बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों में मंगलवार को भी इजाफा जारी रहा। दिल्‍ली में पेट्रोल 14 पैसे की बढ़त के साथ 80.87 रुपये प्रति लीटर और डीजल भी 14 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी के साथ 72.97 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। महाराष्ट्र में तो इस दरवृद्धि ने हायतौबा मचा रखी है। मुंबई, पुणे समेत पूरे राज्य में पेट्रोल के प्रति लीटर के दाम 88 रुपए पार कर गए हैं।

काजू, बादाम, चॉकलेट चोर पुणे पुलिस की हिरासत में

मुंबई में मंगलवार को पेट्रोल की कीमतें 14 पैसे की वृद्धि के बाद 88.26 रुपये प्रति लीटर पहुंच गईं। वहीं डीजल 15 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि के साथ 77.47 रुपये प्रति लीटर के रिकॉर्ड रेट पर पहुंच गया। वहीं पुणे और पिंपरी चिंचवड़ में पेट्रोल 88.45 रुपए और डीजल 76.43 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गया है।पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने सोमवार को रिकॉर्ड तोड़ दिया था। सोमवार को दिल्‍ली में पेट्रोल 23 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 80.73 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया था। वहीं डीजल का रेट 22 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 72.83 रुपये प्रति लीटर हो गया था।

[amazon_link asins=’B00OJZOBRA,B010M5MORO,B00NXG86UE’ template=’ProductCarousel’ store=’policenama100-21′ marketplace=’IN’ link_id=’82f6cf03-b589-11e8-a711-3996780a3a37′]

शनिवार को दिल्‍ली में पहली बार पेट्रोल की कीमतों ने 80 रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार किया था, जो रविवार को 80.50 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया था। ईंधन दरवृद्धि की तेज रफ्तार महाराष्ट्र में देखी जा रही है। मुंबई में पेट्रोल अब 88.26 रुपए और डीजल 77.47 रुपए प्रति लीटर के रेट पर मिल रहे हैं। मुंबई में सोमवार को पेट्रोल के दाम 23 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 88.12 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गए थे। वहीं डीजल में 23 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई और इसके दाम 77.32 रुपये प्रति लीटर के रिकॉर्ड स्‍तर पर पहुंच गए थे।
और दाम बढ़ने की आशंका
विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले वक्त में भारतीय बाजारों में पेट्रोल और डीजल की कीमतें अभी और आसमान छूने वाली हैं। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में इजाफे के पीछे रुपया एक बड़ा कारण है। रुपये में गिरावट के चलते ही तेल कंपनियां लगातार कीमतों में बदलाव कर रही हैं। दरअसल, तेल कंपनियां डॉलर में तेल का भुगतान करती हैं, जिसकी वजह उन्हें अपना मार्जिन पूरा करने के लिए तेल की कीमतों को बढ़ाना पड़ रहा है।
You might also like

Comments are closed.