महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में दोस्ती की आड़ में दोस्त की पत्नी पर ‘बुरी’ नजर, दोस्त ने ही की दोस्त की हत्या

हिंगोली: ऑनलाइन टीम- दो दिन पहले आडा पिंपरी शिवार में नांदेड हिंगोली रोड पर स्कोडा गाड़ी में हुई हत्या का खुलासा करने में पुलिस को सफलता मिली। इस मामले में पुलिस ने संदिग्ध आरोपी को गिरफ्तार किया है। जांच में सामने आया कि दोस्ती का रिश्ता बना कर उसकी पत्नी के साथ संबंध बनाने की कोशिश करने अर दोस्त ने ही उसकी हत्या कर दी।

इस मामले में पुलिस ने कैलाश मारुतराव चिलटेवार (नि. तामसा) को गिरफ्तार किया गया है। माणिकराव राजाराम राजेगोरे (उम्र 50, नि. कलगाव हल्ली नांदेड) की हत्या हुई है। इस मामले में पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शुक्रवार को नांदेड महामार्ग पर सड़क किनारे स्कोडा गाड़ी में एक शव मिला था जो आधा जला हुआ था। पुलिस घटनास्थल पर पहुंच कर शव की जांच की। वहाँ पर मोबाइल का टुकड़ा मिला। उसमे जो सिमकार्ड मिला वो माणिकराव राजेगोरे के नाम पर था। इसलिए पैसे के विवाद में हत्या हुई, पुलिस ने ऐसा अनुमान जताया  था। कैलाश चिलटेवार से हुई बातचीत के तार राजेगोरे के सिमकार्ड से पुलिस को मिला। इस दिशा में पुलिस ने जांच शुरू की।

…इसलिए दोस्त ने बिछाया जाल

आरोपी चिलटेवार और मृत राजगोरे के बीच दोस्ती का संबंध था। माणिका चिलटेवार के घर हमेशा आता जाता रहता था। चिलटेवार की पत्नी के साथ अवैध संबंध बनाने के उद्देश्य से उसे गलत नजर से देखता था। जैसे ही यह बात चिलटेवार को समझ आई वैसे ही चिलटेवार ने एक दोस्त को साथ में लिया और माणिक के खिलाफ जाल बिछाया।

शराब पिलाकर रुमाल से घोंटा गला

आरोपी चिलटेवार ने माणिक राजेगोरे को शराब पिलाकर स्कोडा गाड़ी से अर्धापुर से डोंगरकडा शिवार के पास सुनसान जगह पर ले गया। वहां राजेगोरे की रूमाल से गला घोंटकर हत्या कर दी। फिर उसे उसी स्कोडा कार में डाला। बालापुर-वारंगा मार्ग के पिंपरी शिवारा में मैला के पत्थर पर एक्सीडेंट हुआ ऐसा लगे इसके लिए पहाड़ पर गाड़ी चढा दी। इसके बाद उसने पेट्रोल फेंक कर शव को जलाने का प्रयास किया। हालांकि कार का दरवाजा बंद होने से आग बुझ गया। हालांकि, राजेगोरे का शरीर आधा जल गया था। पुलिस ने बताया कि जब चिलटेवार को हिरासत में लिया गया तो उसने हत्या की बात कबूल कर ली।

You might also like

Comments are closed.