IMP NEWS : ‘बीमारी के इलाज’ के लिए ‘पूर्व सैनिकों’ को मिलेंगे 50 हजार

नई दिल्ली : समाचार  समाचार – पूर्व सैनिकों के लिए खुशखबरी है। दरअसल राज्य के नॉन पेंशनर पूर्व सैनिकों और उनकी विधवाओं को अब गंभीर बीमारी के इलाज के लिए 50 हजार रुपये दिए जाएंगे। हालांकि अब तक ये राशि 25 हजार है। बता दें कि पूर्व सैनिकों को गंभीर बीमारी के इलाज के लिए 25 हजार रुपये की राशि दी जाती रही है। नॉन पेंशनर पूर्व सैनिक ईसीएचएस से भी नहीं जुड़े होते हैं, इसलिए सैनिक कल्याण विभाग इन्हें यह सहायता राशि बीमारी के इलाज के लिए देता है।

इसके लिए करने पड़ेंगे क्लेम –

इसके लिए इलाज करवाने वाले नॉन पेंशनर पूर्व सैनिक को राशि के लिए क्लेम करना पड़ता है। इसके बाद 50 हजार विभाग उक्त पूर्व सैनिक को देगा। नॉन पेंशनर होने के कारण यह वर्ग ईसीएचएस से भी नहीं जुड़ पाया है। ऐसे में ऐसे नॉन पेंशनरों को विभाग गंभीर बीमारी के इलाज पर सहायता राशि देता है। जो पहले 25 हजार थी और अब इसे बढ़ाकर पचास हजार कर दिया है।

35 हजार से कम होनी चाहिए आय –

इसके लिए नॉन पेंशनर पूर्व सैनिक की आय 35 हजार रुपये से कम होनी चाहिए। वहीं नॉन पेंशनर पूर्व सैनिकों और उनकी विधवाओं को एकमुश्त मिलने वाली वित्तीय सहायता भी बढ़कर 20 हजार हो गई है।

बता दें कि पहले यह एक एकमुश्त सहायता राशि दस हजार मिलती थी। इसके लिए 35 हजार से कम इनकम वाले नॉन पेंशनर पूर्व सैनिक और उनकी विधवाओं कों आवेदन करना होता है। इसकी जानकारी सैनिक कल्याण विभाग के ओएसडी अनुपम ठाकुर ने दी।

You might also like

Comments are closed.