अभाविप के आंदोलन व सत्याग्रहों से ही मिली पहचान : प्रकाश जावडेकर

पिंपरी : पुणे समाचार ऑनलाइन – अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) का 55वां अधिवेशन रविवार को चिंचवड स्थित प्रो रामकृष्ण मोरे प्रेक्षागृह में संपन्न हुआ। इसका उदघाटन केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के हाथों किया गया। अपने संबोधन में उन्होंने विद्यार्थी दशा में अभाविप के साथ जुड़े रहने के दौरान की यादों को ताजा करते हुए कहा कि, अभाविप के सदस्य रहने के दौरान विभिन्न आंदोलन, सत्याग्रह में शामिल हुआ, वहीं से मुझे अलग पहचान मिलते चली गई। दुसरो की बजाय मैं खुद से स्पर्धा करता रहा और अपनी गलतियों से सीखता रहा।

आंनद पाने के लिए काम करने की सीख अभाविप ने ही दी। उन्होंने युवाओं को सलाह देते हुए कहा कि युवाओं को हमेशा विद्रोही भूमिका में रहना चाहिए।इस समारोह के मंच पर वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता पद्मश्री गिरीश प्रभुणे, ‘अभाविप’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष छगनभाई पटेल, महापौर उषा ढोरे, पिंपरी चिंचवड़ मनपा के सभागृह नेता नामदेव ढाके, अभाविप के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष सारंग जोशी, महाराष्ट्र प्रदेश मंत्री स्वप्नील बेगडे, स्वागत समिति अध्यक्ष सुधीर मेहता, स्वीकृत नगरेसेवक मोरेश्वर शेडगे, पिंपरी चिंचवड महानगर अध्यक्ष शिल्पा जोशी, पिंपरी चिंचवड महानगर मंत्री प्रथमेश रत्नपारखी समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि हमने छात्र दिनों के दौरान कई सत्याग्रह और आंदोलन में भाग लिया। अभाविप ने कई लोगों की सोच को गति दी। जब जयप्रकाश नारायण का भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन शुरू हुआ, तो हम उसमें शामिल हो गए। देश में आपातकाल लागू कर दिया गया था। उस समय सत्याग्रह भी किया गया था। व्यक्ति स्वतंत्रता, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए लड़ाई लड़ी। सत्याग्रह से जेल जाने की आशंका थी। फिर भी, हमने सत्याग्रह में भाग लेने पर जोर दिया। इसके दौरान, 16 महीने जेल में भी बिताए। भाजपा सरकार ने किसानों को न्याय सुनिश्चित करने के लिए कई योजनाएं लागू की हैं। उन्होंने कहा कि फसल बीमा और किसान सम्मान निधि के माध्यम से लाखों किसानों को आर्थिक रूप से लाभ हुआ है। सरकार गरीबों के जीवन स्तर में सुधार के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार की आलोचना करने और सरकार को सलाह देनेवालों का स्वागत है। हालांकि मीडिया को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए और सच्चाई के लिए खड़ा होना चाहिए। देश बदल रहा है, आगे जाकर और भी आगे बढ़ते हुए, यह विश्वास भी उन्होंने व्यक्त किया।भाजपा

You might also like

Comments are closed.