आईसीसी ने काला बाजारी रोकने के लिए टिकट वापस करने की नीति शुरू की

बर्मिघम (आईएएनएस) : समाचार ऑनलाईन – बड़े टूर्नामेंट मे अक्सर टिकटों की काला बाजारी की कोशिश होती है और इस समस्या से जूझने के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने एक नई नीति (रिटर्न पॉलिसी) शुरू की है जहां अगर प्रशंसक अपने टिकट वापस करते हैं तो उन्हें पूरी रकम लौटाई जाएगी।

आईएएनएस से बात करते हुए आईसीसी के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह टिकट को लेकर होने वाली काला बाजारी को समाप्त करने की परिषद की एक कोशिश है।

अधिकारी ने कहा, “सच कहें तो आप टिकट को लेकर होने वाली काला बाजारी की प्रक्रिया को पूरी तरह से समाप्त नहीं कर सकते। अगर कोई व्यक्ति आधिकारिक वेबसाइट और काउंटर से टिकट खरीदकर बढ़ी हुई कीमत पर उसे बेचने की कोशिश करता है तो हम कुछ नहीं कर सकते।”

उन्होंने कहा, “लेकिन इस नई नीति के जरिए आईसीसी प्रशंसकों को टिकट वापस करके अपनी रकम वापस लेने का मौका दे रहा है ताकि वह टिकटों की कीमत बढ़ाकर उसे बाहर न बेचें। इसके बाद, निर्णय प्रशंसकों को ही लेना है।”

इस नीति के कारण ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए मुकाबले में कुछ भारतीय प्रशंसकों को लाभ भी हुआ।

अधिकारी ने कहा, “हां आपने सही देखा कि कुछ मैच के दिन कुछ टिकेट बिके क्योंकि कई गैर-भारतीय प्रशंसकों को यह आशा नहीं थी कि विराट कोहली की टीम लीग स्तर में शीर्ष पर रहेगी।”

टिकट वापसी की प्रक्रिया के बारे में पूछे जाने पर अधिकारी ने कहा, “टिकट को भौतिक रूप से वापस करना आवश्यक नहीं है। अगर वे आईसीसी के ई-टिकट सेक्शन में एक मेल डालते हैं तो ई-टिकेट और बारकोड दोबारा बनाकर अन्य लोगों को दिए जा सकते हैं। पूरी प्रक्रिया को सरल बनाने का इरादा है।”

You might also like

Comments are closed.