बलात्कार के झूठे आरोप से आहत होकर युवक ने खुद को मारी गोली

द्वारका : दिल्ली के द्वारका में 41 साल के एक व्यक्ति ने खुदकुशी कर ली। इस युवक ने एक सुसाइड नोट लिखा है। इस सुसाइड नोट में उसने अपनी मौत के लिए एक युवती और उसके पिता को जिम्मेदार ठहराया है। महिला ने मेरे खिलाफ बलात्कार का झूठा केस किया है। उसके बाद महिला व उसके पिता मेरे ऊपर दबाव डाल रहे हैं इसलिए मैं ये कदम उठा रहा हूँ।

इस मामले में द्वारका के डिएसपी एसके मीणा ने कहा कि रविवार शाम 5.30 बजे द्वारका के व्यंकटेश अस्पताल से कॉल आया कि दीपक सांगवान नाम के एक व्यक्ति ने खुद को गोली मार ली है। वो गोयल खुर्द का निवासी है। इस मामले की अधिक जांच के लिए पीएसआई अरविंद शौकीन के पास भेजा गया है।

डीएसपी ने कहा कि जब पुलिस को इसकी जानकारी मिली उस समय वो व्यक्ति जवाब देने की स्थिति में नहीं था। तथ्य ढूंढने के लिए जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो घायल व्यक्ति की माँ ने पुलिस को जानकारी दी। क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने भी घटनास्थल का सर्वेक्षण किया। घटनास्थल से 1 पिस्तौल, दो कारतूस और 1 खाली कारतूस जब्त किए गए।

 पुलिस छानबीन के दौरान मिले सुसाइड नोट में दीपक ने लिखा है कि मेरी मौत की जिम्मेदार दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती और उसका पिता हैं। दोनों महावीर एन्क्लेव में रहते हैं। युवती को उसने दो लाख रुपये उधार दिए थे। जब रुपये वापस मांगे तो उन्होंने झूठे मामले दर्ज कराने की धमकी दी। बाद में उन्होंने एक चेक दिया, जो बाउंस हो गया। इसे लेकर द्वारका कोर्ट में सुनवाई हो रही है। बृहस्पतिवार को युवती ने उसके खिलाफ दुष्कर्म की शिकायत कर दी, इसलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूँ।

You might also like

Comments are closed.