दूसरी शादी छिपाई तो प्रेमी को उतार दिया मौत के घाट

हत्या के बाद पहले प्रेमिका ने की खुदकुशी की कोशिश; फिर खुद को किया पुलिस के हवाले

पुणे : समाचार ऑनलाइन – दूसरी शादी कर प्रेमी द्वारा की गई दगाबाजी पता चलते ही प्रेमिका ने गुस्से में आकर प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया। घातक हथियार से प्रेमी की निर्मम हत्या करने के बाद प्रेमिका ने खुदकुशी करने की कोशिश की, फिर सुबह पुलिस थाने जाकर हत्या की वारदात स्वीकार कर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। यह चौंकाने वाली वारदात मंगलवार के तड़के चार बजे सिंहगढ़ रोड स्थित नऱ्हे में एसके नाइक कंपनी के सामने नारायण निवास नामक इमारत मस सामने आई है। मरनेवाले का नाम महंतेश बिरादर (28, निवासी, किरंडी, जत, सांगली) है। पुलिस ने अनुराधा करे (24, निवासी नऱ्हे – धायरी रोड, नऱ्हे, पुणे, मूल निवासी करेवाडी, जत, सांगली) को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के मुताबिक, महंतेश व अनुराधा दोनों बचपन के दोस्त हैं, एक ही स्कूल में उनकी पढ़ाई हुई है। चार साल पहले नौकरी-व्यवसाय के लिए दोनों पुणे आये तब उनके बीच प्रेम संबन्ध बने। अनुराधा करे स्व काशिबाई नवले हॉस्पिटल में नर्स के तौर पर काम करती है। जबकि महंतेश अलग- अलग जगहों पर के करता था। अक्सर दोनों साथ ही रहते थे। शादी करने में आनाकानी करते हुए वह गांव चला गया तब दो साल पहले अनुराधा ने सिंहगड रोड पुलिस थाने में उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके अनुसार उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज किया गया था। बाद में वह अनुराधा के पास लौट आया, उनके बीच समझौता हुआ और दोनों ने आलन्दी में शादी भी की। इसकी जानकारी उन्होंने पुलिस को दी।
शादी के बाद भी महंतेश अनुराधा को टालने लगा। महीनों तक वह घर नहीं आता, गांव में ही रुक जाता। उसने दूसरी शादी कर ली है, ऐसा शक अनुराधा को हुआ। बीती रात वह शराब पीकर घर आया तब अनुराधा ने उससे दूसरी शादी के बारे में पूछा। शराब के नशे में उसने दूसरी शादी की बात स्वीकार कर ली। उसकी इस दगाबाजी को अनुराधा बर्दाश्त नहीं कर सकी। झगड़े के बाद दोनों सो गए, तड़के चार बजे के करीब उसने महंतेश का गला काट दिया। तीव्र रक्तस्राव से उसने जगह पर ही दम तोड़ दिया। उसके मरने के बाद अनुराधा ने खुद भी दुपट्टा से फांसी लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। इसमें विफल होने के बाद उसने अपने पिता को फोन किया और वारदात की जानकारी दी। उनकी सलाह के अनुसार अनुराधा नऱ्हे पुलिस चौकी पहुंची और अपना जुर्म स्वीकार कर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। सिंहगड पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।
You might also like

Comments are closed.