आर्थिक हितसंबन्ध के लिए मनपा के 48 वेंटिलेटर निजी अस्पतालों के हवाले

भाजपा के वरिष्ठ विधायक लक्ष्मण जगताप का गंभीर आरोप
संवाददाता, पिंपरी। महामारी कोरोना के संक्रमण काल में पिंपरी चिंचवड़ मनपा के चिकित्सा विभाग ने मनपा अस्पतालों में वेंटिलेटर क्षमता बढ़ाने के बजाय 10 निजी अस्पतालों को अवैध रूप से वेंटिलेटर बांटे हैं। वह भी ऐसे वक्त में जब शहर के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के इलाज के लिए वेंटिलेटर की बेहद जरूरत थी। मनपा में सत्तारूढ़ भाजपा के वरिष्ठ विधायक लक्ष्मण जगताप ने गंभीर आरोप लगाया है कि मनपा के चिकित्सा विभाग के एक विशिष्ट अधिकारी ने नियमबाह्य तरीक़े से निजी अस्पतालों के साथ रहे आर्थिक हितों के जतन के लिए अच्छी स्थिति में रहे 48 वेंटिलेटर निजी अस्पतालों को बांट दिए।
इस बारे में विधायक जगताप ने मनपा आयुक्त राजेश पाटील को एक पत्र भेजकर वेंटिलेटर वितरण के मामले की तत्काल व व्यापक जांच की मांग की है। साथ ही बांटे गए सभी वेंटिलेटर वापस लेकर मनपा के वाईसीएम, भोसरी, जिजामाता हॉस्पिटल में गरीब मरीजों के इलाज के लिए तत्काल उपलब्ध कराने की सूचना भी दी है। विधायक जगताप ने इस पत्र में कहा है कि, मनपा क्षेत्र में कोरोना वायरस को नियंत्रित कर मरीजों की बढ़ती संख्या को रोकने के लिए कई उपाय किए गए। मनपा के वाईसीएम, ऑटो क्लस्टर, भोसरी रुग्णालय, जिजामाता, जम्बो कोविड अस्पतालों में कई आर्थिक दुर्बल घटक के गरीब मरीजों का इलाज चल रहा था। जो पैसों के अभाव में निजी और महंगे अस्पताल में इलाज नहीं करा सकते थे और उन्हें ऑक्सिजन बेड, वेंटिलेटर बेड के लिए इंतजार करना पड़ रहा था।
मनपा ने ऑक्सीजन व वेंटिलेटर के अभाव में कई मरीजों को निजी अस्पतालों में भर्ती कराया और उनके इलाज का भार खुद वहन किया। ऐसे गंभीर हालातों के बाद भी मनपा ने खुद के अस्पतालों में वेंटिलेटर बेड की क्षमता बढ़ाने की बजाय मनपा क्षेत्र के 10 निजी अस्पतालों को 48 वेंटिलेटर बांटे जाने की जानकारी सामने आई है। यह वितरण करते वक्त गरीब मरीजों को सहूलियत देने की कोई शर्त या नियम नहीं तय किये गए। नतीजन निजी अस्पतालों में गरीब मरीजों के भारी बिलों की बेवजह प्रतिपूर्ति मनपा को करनी पड़ रही है। इस पूरे मामले की जांच करने की मांग विधायक जगताप ने की है। गौरतलब है कि मनपा की ओर से डॉ. डी. वाय. पाटील हॉस्पिटल  में 10, लोकमान्य हॉस्पिटल (निगडी) में 5, लोकमान्य हॉस्पिटल (चिंचवड) में 3, स्टार हॉस्पिटल (आकुर्डी)- 5, आदित्य बिर्ला हॉस्पिटल में 5, अकॉर्ड हॉस्पिटल (भोसरी) में 4, निरामय हॉस्पिटल (चिंचवड) में 5, ब्रम्हचैतन्य हॉस्पिटल में 5, स्टर्लिंग हॉस्पिटल (आकुर्डी) में 4 और ओजस हॉस्पिटल (रावेत) में 2 वेंटिलेटर मनपा की ओर से बांटे गए है।
You might also like

Comments are closed.