Abhijit Panse | कलाकारों को गड्ढ़े भरने का काम दें, ‘ठाकरे’ के निर्देशक का राज्य सरकार पर निशाना

मुंबई : पुणे समाचार ऑनलाइन (Punesamachar Online) –  Film director Abhijit Pans | राज्य सरकार (State government) ने 15 अगस्त से राज्य में कोरोना (corona) प्रतिबंध में बहुत ढील दे दी है। इसलिए राज्य में रात के 10 बजे तक दुकानें खुली रखने का मौका दिया गया है। राज्य सरकार के इस निर्णय से आम लोगों और व्यापारियों को बड़ी राहत मिली है। हालांकि अभी भी राज्य के सिनेमा हॉल, नाट्य गृह और प्रार्थना स्थल बंद हैं। इसलिए इस क्षेत्र से संबंधित लोगों ने नाराजगी व्यक्त की है। ठाकरे फिल्म के निर्देशक अभिजीत पानसे (Film director Abhijit Panse) ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है।

कोरोना महामारी की वजह से लगभग पिछले डेढ साल से राज्य में प्रार्थना स्थल और सिनेमा हॉल बंद हैं। इसलिए मंदिर खोलने के लिए भाजपा नेता और आध्यात्मिक आघाडी, वारकरी संगठन आतुर हैं। वहीं दूसरी ओर सिनेमा हॉल बंद होने से कलाकार, तमाशा कलाआर और नाटक क्षेत्र के कलाकार परेशानी में घिरे हैं। इसलिए अब निर्देशक, अभिनेता, कलाकार और सिनेमा क्षेत्र से जुड़े अन्य मंडल ने नाराजगी व्यक्त की है। कुछ दिन पहले अभिनेता प्रशांत दामने (Actor Prashant Damne) ने फेसबुक पर नाराजगी व्यक्त की थी। उसए बाद अब निर्देशक अभिजीत पानसे ने अपनी नाराजगी व्यक्त की है।

अभिजीत पानसे ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा है ‘ सरकार नात्य कलाकार और बैक स्टेज काम करनेवाले कलाकार को रोजगार गारंटी योजना में शामिल कर गड्ढे भरने का काम दें। क्योंकि नाट्यगृह में कोरोना है और रास्ते पर नहीं है! ऐसा तंज पानसे ने सरकार पर कसा। इसलिए राज्य सरकार इस पर ध्यान देगी क्या, यह सवाल उठा है।

प्रशांत दामले का व्यंगात्मक तंज

राज्य के होटल मालिक, रेस्टोरेंट मालिक, जिम मालिक, मॉल्स मालि का हार्दिक अभिनंदन। मोगैंबो खुश हुआ!अर्थात अब धीरे-धीरे नाट्यगृह, सिनेमा हॉल खोलने का अंतिम (अनावश्यक) चरण जल्द ही आएगा, ऐसी उम्मीद करें। अब ध्यान रखना चाहिए। मा. मुख्यमंत्री, मा. उपमुह्यमंत्री, मा. सांस्कृतिक मंत्री और महाराष्ट्र सरकार का बहुत-बहुत आभार’ ऐसा पोस्ट फेसबुक पर लिख कर प्रशांत दामले ने सरकार पर व्यंगात्मक तंज कसा। अभिनेता उमेश कामत ने भी ‘ सिर्फ नाटक के थिएटर्स में कोरोना है क्या? ऐसा सवाल उठाया था। आस-पास अगर देखें तो सबकुछ शुरू हो चुका है। सिर्फ नाटक की दुनिया रुकी हुई है। ‘कोरोना सिर्फ थिएटर्स में क्या’ ऐसा उन्होने कहा।

 

Web Title : give work filling pits actors thackerays director abhijit panse aims government

Crime News | महाराष्ट्र : पुलिसकर्मी ने की नाबालिग से छेड़छाड़, कोर्ट ने जेल भेजा, नौकरी से भी सस्पेंड

Pimpri News | गैस दरवृद्धि के खिलाफ राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस का आंदोलन

Pimpri News | चुनाव से पहले ही भाजपा में सियासी हड़कंप, महिला बालकल्याण समिति सभापति के पति राष्ट्रवादी कांग्रेस में शामिल

You might also like

Comments are closed.