Loading...

आमजनों को बिजली बिल का शॉक देनेवाली सरकार को वोटों का शॉक दें

Loading...
स्नातक चुनाव के प्रचार में देवेंद्र फडणवीस की अपील
Loading...
पिंपरी। कोरोना के संकट काल में भारी बिलों से आमजनों की कमर टूट गई। दो कमरों में रहनेवालों को भी 30- 30 हजार रुपये के बिल भेजे गए। बिजली बिलों में सहूलियत देने की घोषणा करने के बाद अब सरकार ने स्पष्ट किया है कि किसी को कोई माफी या सहूलियत नहीं मिलेगी, सभी को बिजली बिल चुकाना ही पड़ेगा। आमजनों को बिजली बिलों का शॉक देनेवाली इस सरकार को वोटों रूपी शॉक दें, यह अपील भूतपूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने बुधवार को चिंचवड़ में पुणे स्नातक चुनाव क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी के प्रचारार्थ आयोजित सम्मेलन में की।
Loading...
पुणे स्नातक चुनाव क्षेत्र के चुनाव के प्रचार के लिए चिंचवड के प्रा. रामकृष्ण मोरे प्रेक्षागृह में पार्टी कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया था। इस मौके पर भाजपा शहराध्यक्ष व विधायक महेश लांडगे, महेश लांडगे, विधायक लक्ष्मण जगताप, भूतपूर्व मंत्री हर्षवर्धन पाटील, विधायक निरंजन डावखरे, प्रत्याशी संग्राम देशमुख, महापौर ऊषा ढोरे, सभागृह नेता नामदेव ढाके, स्थायी समिति सभापति संतोष लोंढे, पार्टी महासचिव राजू दुर्गे, मोरेश्वर शेडगे, प्राधिकरण के भूतपूर्व अध्यक्ष सदाशिव खाडे, वरिष्ठ नगरसेवक एकनाथ पवार, प्रदेश सचिव अमित गोरखे, भूतपूर्व महापौर राहूल जाधव आदि उपस्थित थे।
फडणवीस ने कहा, हमारे देश की जनता कर्मयोगी व्यक्ति को पसंद करती है न कि केवल घोषणा करनेवालों को। कोरोना के काल में सरकार ने लोगों को कोई मदद नहीं दी। बिजली बिल में सहूलियत देने की घोषणा के बाद अब 4 दिन पहले ऊर्जा मंत्री कहते हैं कि घोषणा के वक्त मेरा इस मसले पर पूरा अभ्यास नहीं हुआ था। गुजरे एक वर्ष में सरकार ने जितने आश्वासन दिए, जितनी घोषणाएं की उनमें से एक को भी पूरा नहीं किया। सालभर में जारी कामों को स्थगित कर महाराष्ट्र बंद कर दिया। राज्य को आगे ले जा सकनेवाला कोई काम इस सरकार ने नहीं किया है, यह आरोप लगाते हुए उन्होंने राज्य सरकार पर निशाना साधा।
सरकार पर निशाना साधते हुए फडणवीस केंद्र की मोदी सरकार के कामों की सराहना करते हुए कहा कि, कोरोना के संकटकाल में सर्वसामान्य लोगों को दिलासा देनेवाले कई फैसले और योजना  मोदी सरकार ने शुरू की। ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के तहत समाज के सभी स्तरों के नागरिकों को मदद देने का काम मोदी सरकार ने किया। पुणे स्नातक और शिक्षक चुनाव क्षेत्र के लिए पिंपरी चिंचवड़ के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने रिकॉर्ड मतदाता पंजीयन किया। यह कहते हुए फडणवीस ने इन चुनावों में टीम पिंपरी चिंचवड़ की तैयारी उल्लेखनीय बताया। ऐसे में भाजपा ये दोनों सीटें भाजपा ही जीतेगी, यह निःसंदेह है, यह विश्वास भी जताया।
Loading...

Comments are closed.