एंजियोप्लास्टी के बाद गांगुली पहले से बेहतर, प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट

कोलकाता. ऑनलाइन टीम : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली की शनिवार सुबह अचानक तबीयत बिगड़ गई। उन्हें कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें सीने में तकलीफ हो रही थी। जांच के बाद चिकित्सकों ने एंजियोप्लास्टी का फैसला लिया। जाने-माने हृदयरोग विशेषज्ञ डॉ. देवी शेट्टी और डॉ. अश्विन मेहता समेत डॉक्टरों की एक टीम ने गांगुली की गुरुवार को एंजियोप्लास्टी की। इसके बाद उन्हें आईसीयू में रखा गया था। हालत में सुधार होते देख अब उन्हें क्रिटिकल केयर यूनिट से प्राइवेट रूम में शिफ्ट किया गया है। कोलकाता के एक निजी अस्पताल में गांगुली का इलाज चल रहा है।

एक अधिकारी ने बताया कि गांगुली की गुरुवार को फिर से एंजियोप्लास्टी हुई थी और उनके हृदय की धमनियों में अवरोध दूर करने के लिए दो और स्टेंट डाले गए। अब उनके स्वास्थ्य से जुड़े सभी मानक सामान्य हैं। याद रहे कि हृदय संबंधी दिक्कतों के कारण बुधवार को गांगुली एक महीने में दूसरी बार अस्पताल में भर्ती हुए थे।

उस समय बताया गया था कि सौरव ‘ट्रिपल वेसल डिजीज से पीड़ित हैं, जिसके कारण उनके हृदय में खून पूरी तरह नहीं पहुंच रहा था और उन्हें हल्का हार्ट अटैक आया। याद रहे तब गांगुली अपने जिम में ट्रेडमिल पर दौड़ रहे थे। इस दौरान उन्हें छाती में तकलीफ हुई और फिर उन्हें तुरंत वुडलैंड्स अस्पताल ले जाया गया था। उनकी धमनियों में तीन ब्लॉक पाए गए, जिसे हटाने के लिए उन्हें एक स्टेंट लगाया गया था।

You might also like

Comments are closed.