जिला परिषद के अंदरूनी कलह में पालक मंत्री पवार का हस्तक्षेप

पुणे : पुणे जिला परिषद के विकास कामो की अनियमित सूचियो और पदाधिकारी व वरिष्ठ अधिकारियों के अंतर्गत गुटबाज़ी पर जिला के पालक मंत्री अजीत पवार ने हस्तक्षेप किया है। इन मुद्दों पर अजित पवार ने जेडपी के पदाधिकारी और वरिष्ठ अधिकारियों की अच्छी खबर ली है। इसके बाद अजित पवार ने सलाह देते हुए कहा कि जो हुआ उसे भूल कर आने वाले समय में समझदारी से नियमानुसार काम करे।

पालक मंत्री अजित पवार ने गुरुवार को मुंबई में जिला परिषद के सभी पदाधिकारी और कुछ वरिषृह अधिकारियों के साथ बैठक की थी। इस बैठक में उन्होने अधिकारियों की कानखिचाई की थी। इस बैठक में पवार ने राष्ट्रवादी कांग्रेस से भाजपा में गये एक कार्यकर्ता का भी उदाहरण दिया। विकास कामो की सूचि बनाते समन जिला नियोजन अधिकारी द्वारा जिला परिषद को जानकारी न देने की शिकायत पदाधिकारियो द्वारा की गई।

जिला परिषद में बीते कई दिनो से कुछ पदाधिकारियो में मतभेद देखने को मिल रहा है। पदाधिकारियो में गुटबाज़ी की चर्चा भी चल रही है। इसमे काम का श्रेय लेने की होड़ में एक वरिष्ठ अधिकारी ने नई कार्यप्रणाली पर जोर दिया। इसलिए पदाधिकारी और संबंधित अधिकारी में ठन गई और पदाधिकारी ने उसके इस कार्यप्रणाली की शिकायत पवार से की।

You might also like

Comments are closed.