JNU में फीस डबल से अधिक, फिर छिड़ेगी लड़ाई

ऑनलाइन समाचार. नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) प्रशासन ने 2020-21 शैक्षणिक वर्ष में नामांकन छात्रों के लिए फीस को डबल से अधिक कर दिया है. मेडिकल फीस को 1000 रुपए से अधिक कर दिया गया है। आपको बता दें, मेडिकल टेस्ट की फीस में बढ़ोतरी से पहले ही जेएनयू में जेएनयू छात्रसंघ हॉस्टल फीस वृद्धि को लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय में मामला लड़ रहा है. जेएनयूएसयू विश्वविद्यालय के भीतर और बाहर महीनों के विरोध प्रदर्शनों के बाद अदालत में गया, जिससे मानव संसाधन विकास मंत्रालय को बैठकें आयोजित करने के लिए मजबूर होना पड़ा.

जेएनयूएसयू के अध्यक्ष आइश घोष ने कहा, “यह फिर से लड़ा जाएगा. जेएनयू समुदाय को इसे रोकने के लिए एकजुट होने की जरूरत है.” वहीं जब इस बारे में जेएनयू के डीन प्रवेश दीपक गौर और रजिस्ट्रार प्रमोद कुमार ने टिप्पणी मांगने के लिए कॉल किया गया था उनके पास कोई जवाब नहीं थी.

जहां पिछले साल MPhil और PhD छात्रों के लिए फीस 295 रुपये प्रति सेमेस्टर थी, वहीं इस साल इसे बढ़ाकर 780 रुपये प्रति सेमेस्टर कर दिया गया है. इसी तरह, पोस्टग्रेजुएट और ग्रेजुएट छात्रों के लिए फीस 2019-20 में प्रति सेमेस्टर 283 रुपये से बढ़ाकर 2020-21 में प्रति सेमेस्टर 768 रुपये कर दिया गया है.

You might also like

Comments are closed.