सराफा दुकान की लूटपाट मामले में निष्कासित पुलिसकर्मी की संलिप्तता

पुणे : समाचार ऑनलाइन – आठ दिन पहले कोथरुड़ स्थित पेठे ज्वेलर्स नामक सराफा दुकान में दो बंदूकधारी लूटेरों द्वारा की गई 10 लाख रुपये की लूटपाट के सिलसिले में जलगांव पुलिस बल से निकाले गए एक पुलिस अधिकारी की संलिप्तता रहने की चौंकाने वाली जानकारी सामने आयी है। इसके अलावा इस वारदात में इस्तेमाल की गई मोटरसाइकिल भी जलगांव की रहने से अनुमान लगाया जा रहा है कि वारदात को अंजाम देनेवाले जलगांव के होंगे। 
गत माह 24 नवंबर को दो बंदूकधारी लूटेरे कोथरुड़ के पेठे ज्वैलर्स में घुस गए और बंदूक की नोंक पर 10 लाख 19 हजार 600 रुपये के सोने के गहने लूट लिए। इस दौरान एक लूटेरे ने दो राउंड हवाई फायर भी किया था जिससे पूरा इलाका खौफजदा है। यह पूरी घटना सीसीटीवी पर कैद हो गई और दोनों लुटेरों के चेहरे साफ हैं। इस मामले की जांच में जुटी पुणे पुलिस ने अब तक की छानबीन में पाया कि इस वारदात में जलगांव पुलिस बल के एक निष्कासित पुलिस कर्मचारी की संलिप्तता है।
पुलिस इस निष्कर्ष तक भी पहुंची है कि डकैती के दौरान फायरिंग करनेवाला वही निष्कासित पुलिस कर्मी है। पुणे पुलिस के संदेह को बल इस वारदात में इस्तेमाल की गई मोटरसाइकिल से मिला है। जांच में पता चला है कि अपराध में इस्तेमाल की गई बाइक जलगांव से चुराई गई थी। इसके कारण पुणे पुलिस को संदेह है कि लुटेरे जलगांव के थे। इस मोटरसाइकिल की जानकारी जुटाने की कोशिश करने पर पता चला कि वह मोटरसाइकिल आरटीओ के पास रजिस्टर्ड ही नहीं है। नतीजन पुलिस हर दोपहिया शोरूम में जाकर उस मोटरसाइकिल की जानकारी हासिल करने में जुटी है।

Comments are closed.