हर मुद्दे पर सभी को सोच-समझकर बोलना चाहिएः अजीत पवार

अमरावती : समाचार ऑनलाइन – उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के बिंदास रूप से कुछ भी बोलने की शैली से राज्यभर के लोग वाकिफ है, लेकिन इस वजह से कई बार उनके लिए परेशानियां खड़ी हो जाती है. इस संबंध में अजीत पवार ने खुद कहा है कि अब वह बोलते वक्त बेहद सावधानी बरतते हैं. उन्होंने कहा कि कई बार बयान पर हंगामा मचाया जाता है, इसलिए मैं अब कुछ भी बोलने से पहले 50 बार विचार करता हूं. इससे शंका-कुशंका पैदा नहीं होगी. विवाद पैदा नहीं होगा. इस बात को ध्यान में रखते हुए सभी बातें सोच-समझकर बोलना चाहिए.

अजीत पवार अमरावती में पत्रकारों से बात कर रहे थे. सार्वजनिक निर्माणकार्य मंत्री और कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने सरकार से बाहर होने को लेकर बयान दिया था, उस पर अजीत पवार की प्रतिक्रिया मांगी गई थी. इस पर उन्होंने कहा कि बाकी बातों पर बोलने का कोई मतलब नहीं है. राज्य के हित के लिए हमें कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के अनुसार काम करना है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, राष्ट्रवादी के अध्यक्ष शरद पवार और कांग्रेस की मौजूदा अध्यक्षा सोनिया गांधी का जब तक समर्थन प्राप्त है, तब तक सरकार को कुछ नहीं होगा.

visit : punesamachar.com

You might also like

Comments are closed.