एस्सार ग्रुप भारत के विकास की कहानी को प्रतिबद्ध

मुंबई, 5 मार्च (आईएएनएस)| पिछले तीन वर्षो में 1.4 लाख करोड़ रुपये की आक्रामक ऋण कटौती के बाद से रुइयास की अगुवाई वाला एस्सार, भारत के विकास की कहानी के लिए प्रतिबद्ध है। रवि रुइया और प्रशांत रुइया ने एस्सार की 50वीं वर्षगांठ के जश्न से ठीक पहले बैंकों और फंड हाउसों को यह संदेश दिया है।

रुइयास एस्सार ग्रुप ने कहा कि पिछले तीन वर्षो में अपने काम के चलते कंपनी ने अपने कर्ज में 1.40 लाख करोड़ रुपये की कमी देखी है और अब उसकी कमाई की गुणवत्ता अधिक स्वस्थ और टिकाऊ है।

बैंर्क्‍स और घरेलू फंड हाउसों को लिखे अपने पत्र में रवि रुइया और प्रशांत रुइया ने कहा, “कंपनियों के हमारे मौजूदा पोर्टफोलियो को भारत की विकास की कहानी में मजबूती से रखा गया है और हम व्यापार को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

पत्र अपने स्टेक होल्डर्स को अपडेट करने के साथ यह अपनी 50 वीं वर्षगांठ समारोह को किकस्टार्ट करते हुए ग्रुप के प्रयासों का हिस्सा है।

एस्सार ग्रुप ने संकेत दिया है कि यह अपने मौजूदा पोर्टफोलियो में वृद्धि को आगे बढ़ाते हुए, विकास के एक नए चरण को शुरू करने की ओर अग्रसर है।

एस्सार ने संकेत दिया है कि भविष्य के विकास की संभावनाओं में उसका विश्वास बैलेंस शीट में पर्याप्त गिरावट और व्यवसायों के शेष पोर्टफोलियो में मजबूत संभावनाओं के आधार पर है।

रवी रुइया और प्रशांत रुइया द्वारा संयुक्त रूप से हस्ताक्षरित पत्र में कहा गया है कि एस्सार ग्रुप अपने उद्यमशीलता कौशल, मानव संसाधनों का प्रयोग कर नए अवसरों के माध्यम से अपने सभी हितधारकों के लिए मूल्य बनाना जारी रखेगा।

You might also like

Comments are closed.