Eknath Khadse: मैंने किसी का तलवा नहीं चाटा, न ही हाँजी-हाँजी की, खडसे ने महाजन पर साधा निशाना

मुंबई : जलगाव जिले में एकनाथ खडसे और गिरीश महाजन के नेतृत्व का विवाद ताजा नहीं है। एकनाथ खडसे ने भाजपा को छोड़कर राष्ट्रवादी का दामन थामा था। उसके बाद अब महाजन विरुद्ध खडसे का विवाद जिले में कई बार देखने को मिला है। जलगाव में पिछले कई दिनो से एक ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है। इस ऑडियो क्लिप पर एकनाथ खडसे और गिरीश महाजन बीच तकरार दिख रहा है।

एक युवक ने खडसे को फोन कर पानी की समस्या की शिकायत की थी। यह युवक जामनेर तालुके के वडगाव का था। इस पर खडसे ने पूछा कि आपके विधायक गिरीश क्या कर रहे हैं? इधर-उधर औरतो के पीछे घूमते रहते हैं क्या? उस पर युवक ने कहा कि वो फोन नहीं उठाते हैं। खडसे ने कहा कि वो सिर्फ लड़की का फोन उठाते हैं। यह ऑडियो क्लिप जलगाव जिले में वायरल हो गया। इसके बाद एक पत्रकार ने इस की पुष्टि करने के लिए एकनाथ खडसे को फोन किया, तब खडसे ने इसकी पुष्टि की।

इस ऑडियो क्लिप पर उत्तर देते हुए गिरिश महाजन ने खडसे को फटकार लगाई है। गिरीश महाजन ने कहा कि मुख्यमंत्री पद के रेस वाले व्यक्ति को एक स्कूली छात्र से किस तरह से बात करनी चाहिए इसका अंदाजा नहीं रहा? एकनाथ खडसे विफलता ग्रस्त हो गए हैं। उनका मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। इसलिए मुझे अब इस ओर ध्यान देना होगा। खडसे का इलाज करना पड़ेगा। विशेष रूप से महाजन के इस वक्तव्य पर खडसे ने एक बार फिर से महाजन की खबर ली है।

गिरीश महाजन के निर्वाचन क्षेत्र के लोग पिछले कई महीने से मेरे पास शिकायत कर रहे हैं। पीने का पानी नहीं है, अस्पताल में बेड नहीं है। अपनी जिम्मेदारी को छोड़कर तीन सप्ताह से पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार के लिए जाना कितना उचित है? कहते हैं कि मेरा संतुलन बिगड़ गया है, मैं ठीक हूँ क्या इसकी जांच करने के लिए उन्हे यहाँ आकर देखना चाहिए। मुझे सब पता है। 1994 के पर्दापुर के भानगडी से लेकर सब पता है। मैंने व्यक्तिगत कमेंट नहीं किया है। निर्वाचन क्षेत्र के लोग नाराज हैं, यह चेतावनी भी खडसे ने दी।

गिरीश भाऊ को मैं ही राजनीति में लेकर आया, मैंने आर्थिक मदद की, प्रचार के लिए गली मोहल्ले में घूमा। इसलिए आज वो यहाँ हैं। मेरा दोष सिर्फ इतना ही है कि मैंने कभी किसी का तलवा नहीं चाटा, किसी की हाँ में हाँ नहीं मिलाई, इसकी मुझे आदत नहीं है। कई लोग प्रमाणिक रहते हैं कई लोग नहीं रहते हैं, ऐसा कहते हुए खडसे ने महाजन पर निशाना साधा।

लोगो ने मेरे पास शिकायत की

अपने क्षेत्र को छोड़कर विधायक पश्चिम बंगाल में घूम रहे थे। 35 दिनो तक विधायक अपने क्षेत्र में नहीं थे, लोगो को पीने के लिए पानी नहीं है। गिरीश महाजन के निर्वाचन क्षेत्र के लोग महीने भर से मेरे पास शिकायत कर रहे हैं। पीने का पानी नहीं है, अस्पताल में बेड नहीं है। अपनी जिम्मेदारी छोड़कर 3-3 सप्ताह तक पश्चिम बंगाल में प्रचार के लिए जाना कितना उचित है? यह सवाल खडसे ने उठाया है।

You might also like

Comments are closed.