गाजीपुर में गंगा नदी में तैरती दिखीं दर्जनों लाशें, लोगों में डर का माहौल

गाजीपुर : ऑनलाइन टीम –  कोरोना की वजह से इन दिनों ज्यादातर लोगों की मौत हो रही है। शमसान घाट और कबिर्स्तान में जगह नहीं होने की वजह से कई जगहों पर लोग लाशों को नदी में फेकने की खबर सामने आ रही है। इस बीच बिहार के बक्सर के बाद उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में भी गंगा नदी में दर्जनों लाशें तैरती दिखी हैं।  जिले के गहमर थाना क्षेत्र के नरवा, सोझवा और बुलाकीदास बाबा घाट पर दर्जनों शव किनारे पर मिले हैं.

इसके अलावा करण्डा क्षेत्र के कई घाटों पर भी शव नदी में पड़े मिले हैं। गंगा किनारे शवों के मिलने से ग्रामीणों में हड़कंप मचा हुआ है। शवों के कोरोना संक्रमित होने की आशंका से ग्रामीण भयभीत हैं। उधर मामले की सूचना डीएम को मिली तो उन्होंने जांच के लिए टीम गठित कर दी। गाजीपुर डीएम एमपी सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है, हमारे अधिकारी मौके पर मौजूद हैं और जांच चल रही है।

गौरतलब है कि गाजीपुर का गहमर गांव बिहार के बक्सर जिले से सटा हुआ है। गंगा नदी गहमर से होते हुए बिहार में प्रवेश करती है। बक्सर जिले के चौसा क्षेत्र के महादेवा घाट पर सोमवार को शव मिलने से हड़कंप मच गया था। चौसा के जिला प्रशासन को संदेह है कि ये शव यूपी से बहकर आए हैं। इससे पहले हमीरपुर जिले से होकर बहने वाली यमुना नदी में भी दर्जनों शव उतराते मिले थे, जिसके बाद यह संदेह भी जताया गया कि यह कोविड-19 से जान गंवाने वालों की लाशें हैं।

You might also like

Comments are closed.