चर्चा तेज…लक्खा सिधाना पहुंचा रैली में, आंदोलनकारी किसानों को बनाया ढाल   

नई दिल्ली. ऑनलाइन टीम : एक लाख रुपए के इनामी लक्खा सिधाना ने मंगलवार को पंजाब के बठिंडा में नए कृषि कानूनों के विरोध में आयोजित की गई एक रैली में हिस्सा लिया। इससे साफ होता है कि वह आंदोलनकारी किसानों को ढाल बनाकर देश-विरोधी गतिविधियों में लगा हुआ है।

सूत्रों के अनुसार,  पंजाब के बठिंडा में किसान रैली बुलाई गई थी। ये रैली सीएम अमरिंदर सिंह के गांव मेहाराज में सुबह 11 बजे हुई। दावा है कि लक्खा सिधाना ने इसमें भाग लिया। इसके पहले भी गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बने लखबीर सिंह उर्फ लक्खा सिधाना को एक वीडियो में इस किसान सभा में भाग लेने का आह्वान करते देखा गया था।

वीडियो में सिधाना ने आरोप लगाया था कि केंद्र सरकार किसानों के खिलाफ झूठे केस दर्ज कर उन्हें डराने की कोशिश कर रही है। सिधाना ने इस वीडियो में उसने अप्रत्यक्ष रूप से भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पर भी हमला बोला था। सिधाना ने कहा था कि किसान आंदोलन पर अब ऐसे लोगों का कब्जा हो गया हो, जो कि पंजाबी भी नहीं हैं।

बता दें कि लक्खा सिधाना 26 जनवरी की लाल किला हिंसा का आरोपी है।  दिल्ली पुलिस को लक्खा की तलाश है।   बताया जा रहा है कि यह खबर पुलिस को जैसे ही मिली, उसने सादे वेश में पूरे इलाके को घेर लिया, लेकिन भारी भीड़ को देखते हुए एक्शन लेने से बचती रही, क्योंकि वह अंदेशे को बल नहीं देना चाहती थी।

You might also like

Comments are closed.