बैठक के पहले चर्चा तेज… कांग्रेस में संकटमोचक बनेंगे कमलनाथ, लेंगे अहमद पटेल की जगह  

भोपाल. ऑनलाइन टीम : कांग्रेस के ‘चाणक्य माने जाने वाले अहमद पटेल की मृत्यु के बाद से सोनिया गांधी को अपने नए संकटमोचक की तलाश है। राजस्थान के अशोक गहलोत के बाद अब कमलनाथ तक बात आई है। कमलनाथ गांधी परिवार के पुराने वफादारों में शामिल हैं। अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी भी उन पर भरोसा करती हैं। तीन दिन पहले ही कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में कहा था कि वे अब आराम करना चाहते हैं। इसके बाद से कयास लग रहे हैं कि मध्य प्रदेश की राजनीति में उनकी सक्रियता कम होगी। अब यह अंदाजा लग रहा है कि वे कांग्रेस पार्टी के केंद्रीय संगठन में बड़ी भूमिका में नजर आ सकते हैं।

दरअसल, कुछ दिन पहले पार्टी के 23 वरिष्ठ नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर नेतृत्व के संकट को खत्म करने के लिए कदम उठाने की मांग की थी। इससे नाराज सोनिया अब तक इन नेताओं से मिलने से इनकार कर रही थीं, लेकिन कमलनाथ ने सोनिया के साथ असंतुष्ट नेताओं को भी मीटिंग के लिए मनाने में बड़ी भूमिका निभाई है। उनके कहने पर कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को वरिष्ठ नेताओं की मीटिंग बुलाई है। संभावना है कि इस मीटिंग में पार्टी के नए अध्यक्ष को लेकर भी बड़ी घोषणा हो सकती है।

चूंक कमलनाथ की पहल पर ही यह बैठक हो रही है, इसलिए माना जा रहा है कि सुलह की भूमिका के चलते कमलनाथ को अहमद पटेल की जगह दी जा सकती है सूत्रों की मानें तो एमपी में उपचुनाव के नतीजे आने के बाद से ही कमलनाथ पार्टी का संकट सुलझाने के लिए सक्रिय हो गए थे। यह भी कहा जा रहा है कि असंतुष्ट नेताओं को मनाने की जिम्मेदारी उन्हें सोनिया गांधी ने दी है।

You might also like

Comments are closed.