Devendra Fadnavis | आख़िरकार देवेंद्र फडणवीस ने किया विस्फोट ; नवाब मलिक के परिवार ने कुर्ला में 3 एकड़ सम्पत्ति अंडरवर्ल्ड के गुंडों से खरीदी  

मुंबई : विधानसभा में विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने एक महत्वपूर्ण ऐलान किया था।  मंगलवार की दोपहर 12 बजे यानी 9 नवंबर की दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बम फोड़ेंगे।  इस प्रेस कॉन्फ्रेंस पर सबकी नज़रें टिकी हुई थी।  आख़िरकार दिवाली के बाद देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने बम फोड़ा और राष्ट्रवादी कांग्रेस (Nationalist Congress) के सीनियर नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) के नाम का खुलासा किया है।  1993 बम विस्फोट मामले में उम्रकैद की सजा पाए आरोपी और दाऊद के साथियों से नवाब मलिक के परिवार के नाम पर कुर्ला (Kurla) में एलबीएस रोड में 3 एकड़ जमीन कौडे के भाव खरीदने का पर्दाफाश फडणवीस ने किया हैं।  अंडरवर्ल्ड के इन गुंडों का नाम सरदार शाहवली खान (Sardar Shahwali Khan) और सलीम पटेल (Salim Patel) है।
2003 में यह सौदा शुरू हुआ था।  इसके बाद 2005 में यह सौदा पूरा हुआ।  2. 80 एकड़ यानी 1 लाख 23 हज़ार स्क्वायर मीटर जमीन सॉलिड्स इन्वेस्टमेंट प्रा लि कंपनी (Solids Investment Pvt Ltd Company) ने दाऊद के गुंडों से ख़रीदा।  खरीदी के सभी क़ानूनी डॉक्युमेंट्स पर फराज मलिक (Faraz Malik) नामक व्यक्ति का सिग्नेचर है।  यह जमीन मूल रूप से गोवा वाले मालिक का था।
सलीम पटेल (Salim Patel) कौन है इसकी जानकारी नहीं है क्या ? मुंबई (Mumbai) में बम विस्फोट कराने वालों से क्यों जमीन खरीदी ? 20 लाख में तीन एकड़ जमीन आपको क्यों और किसलिए दिया ? इन आरोपियों पर टाडा लगा था और टाडा के आरोपियों की सारी प्रॉपर्टी सरकार ने जब्त कर ली है।  लेकिन  टाडा  के आरोपियों की संपत्ति जब्त न हो इसलिए आपको ट्रांसफर किया गया क्या ? ऐसे कई सवाल देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने खड़े किये है।


कौन है सरदार शाहवली खान ? (Devendra Fadnavis)

सरदार शाहवली खान 1993 मुंबई बम विस्फोट (Mumbai bomb blast) का आरोपी है।  उसे उम्रकैद की सजा मिली है और सुप्रीम कोर्ट ने इसे बरक़रार रखा है।  फ़िलहाल वह जेल में बंद है।  टाइगर मेमन के नेतृत्व में तैयार फायर आर्म ट्रेनिंग में वह शामिल हुआ था।
बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) और मुंबई मनपा (Mumbai Municipal Corporation) की बिल्डिंग में बम कहां रखना है ? इसकी रेकी उसी ने की थी।  टाइगर मेमन (Tiger Memon) के घर में बम विस्फोट की प्लानिंग बनी थी।  वह सारी मीटिंग में मौजूद था।  क्या होने वाला है इसकी पूरी जानकारी उसके पास थी।  अल माहिम के हुसैनी बिल्डिंग   में टाइगर मेमन के घर पर गाड़ियों में आरडीएक्स भरा गया था। माफ़ी मांग कर गवाह बने और अन्य अपराधियों ने इसके सबूत दिए।  इसके उसे उम्रकैद की सजा दी गई।


कौन है मोहम्मद सलीम इशाक पटेल उर्फ़ सलीम पटेल मोहम्मद सलीम इशाक पटेल उर्फ़ सलीम पटेल ?

सलीम पटेल हसीना पारकर का सहयोगी और फ्रंटमैन है।  उसके साथ उसे 2007 में पकड़ा गया था।

 

 

Mumbai Cruise Drugs Case | किरण गोसावी ने फिरौती वसूलने के लिए बनाया था बड़ा प्लान, मुंबई पुलिस SIT की जांच में हुआ खुलासा 

You might also like

Comments are closed.