दिसंबर तक दौड़ न सकी मगर ट्रैक पर आयी पुणे मेट्रो

पिंपरी। संवाददाता : महामेट्रो द्वारा पिंपरी चिंचवड शहर में दिसंबर तक मेट्रो के दौड़ने का दावा किया जाता रहा, जो कि विफल साबित हुआ है। हालांकि सोमवार से मेट्रो को ट्रैक पर लाने का काम शुरू किया गया है। बीते दिन मेट्रो कोच पिंपरी चिंचवड शहर में दाखिल हुए। आज दिनभर बड़ी क्रेन की सहायता से उन्हें ट्रैक पर लाया जाता रहा। इससे आशा है कि, शहर में जल्द ही मेट्रो ट्रेन दौड़ने लगेगी। बहरहाल मेट्रो परियोजना में पिंपरी चिंचवड शहर का नामोल्लेख टाले जाने से नाराजगी जताई जा रही है।
पुणे मेट्रो परियोजना के तहत पिंपरी चिंचवड से स्वारगेट और वनाज से रामवाडी इन दो रूट्स पर मेट्रो परियोजना का निर्माणकार्य शुरू है। जून 2017 में महामेट्रो की ओर से इसका परोक्ष निर्माणकार्य शुरू किया गया है। मेट्रो ट्रेन के ट्रैक, पिलर्स, बिजली सप्लाई, सिग्नल जैसे कई काम तेज गति से शुरू है। 30 महीनों में इस परियोजना का काफी काम पूर्ण हुआ है। पुणे में मेट्रो कोच के डिपो का काम अब तक नहीं हुआ है जिससे कोच में विभिन्न फिटिंग्स के लिए पुणे मेट्रो को नागपुर पर अवलंबित रहना पड़ रहा है।
मेट्रो कोच में प्राथमिक टेस्टिंग, फिटिंग, रंगरोगन और इंटीरियर का काम पूरा करने के बाद 22 दिसंबर को दो ट्रेनों के लिए छह कोच के दो सेट नागपुर से पुणे रवाना किये गए। आठ दिन के सफर के बाद ये कोच रविवार को पिंपरी चिंचवड में दाखिल हो गए। आज उन्हें क्रेन की सहायता से मेट्रो ट्रैक पर लाने का काम शुरू किया गया। मेट्रो ट्रेन के हर सेट में तीन कोच हैं, जिनमें से एक कोच महिलाओं के रिजर्व रहेगा। एक मेट्रो ट्रेन में 950 से 970 यात्री सफर कर सकेंगे। यह पूरी तरह से वातानुकूलित कोच हैं जिसमें कई अत्याधुनिक सुविधाओं का समावेश होगा।
You might also like

Comments are closed.