Coronavirus News | महाराष्ट्र की चिंता बढ़ी; डेल्टाप्लस के तीन अलग-अलग वायरस मिलने से खतरा बढ़ा

मुंबई : (Coronavirus News) राज्य में कोरोना संकट नियंत्रण में है। पिछले कई दिनों से राज्य में प्रतिदिन 5 से 6 हजार नए कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। पिछले कई दिनों से राज्य में कोरोना का असर कम हुआ है। हालांकि विशेषज्ञों की चिंता बनी हुई है। डेल्टाप्लस वेरिएंट (DeltaPlus Variants) की वजह से कोरोना संक्रमण (Coronavirus News) का खतरा बरकरार है। डेल्टा वेरिएंट ग्रुप के तीन अलग-अलग वायरस ने विशेषज्ञों की चिंता बढ़ा दी है। डेल्टा प्लस वेरिएंट के नए रूप का खतरा जाने के लिए रिसर्च (Research) की जरूरत है।

राज्य में डेल्टा प्लस के कुल 66 मरीज होने की जानकारी वायरस के जीनोम सिक्वेंसिंग का माध्यम से सामने आया। इसमें डेल्टा प्लस वेरिएंट के तीन अलग-अलग प्रकार हैं। उन्हे Ay.1 Ay.2 aur Ay.3 ऐसा नाम दिया गया है। विशेषज्ञों ने डेल्टा प्लस के और 13 subspecies को ढूंढ निकला है।  Ay.1 Ay.2 aur Ay.3 से उसकी शुरुआत होती है और इसी लिस्ट में 13 तक जाता है। डेल्टा वेरिएंट का म्यूटेशन होने से डेल्टा प्लस का निर्माण हुआ। डेल्टा का स्पाइक प्रोटीन में K417N नाम का अतिरिक्त म्यूटेशन से डेल्टा प्लस वेरिएंट तैयार हुआ है।

मुंबई में भी डेल्टा प्लस का खतरा

मुंबई में डेल्टा प्लस वेरिएंट के 11 मरीज मिले हैं। पूर्व मुंबई में 63 वर्षीय महिला की डेल्टा प्लस से मौत हो गई। इस महिला के परिवार में 6 लोगों को कोरोना संक्रमण हुआ। इसमें कुछ लोगों को डेल्टा प्लस संक्रमण हुआ। पिछले महीने में रायगड जिले में एक 69 वर्षीय महिला की डेल्टा से मौत हो गई थी। इसके अलावा रत्नागिरी में 80 वर्षीय महिला की कोरोना से मौत हो गई।

राज्य में अभी तक 66 मरीज

महाराष्ट्र में अभी तक डेल्टा प्लस के 66 मरीज मिले हैं। इसमें 5 की मौत हो चुकी है। डेल्टा से संक्रमित हुए 66 में से कुछ लोगों ने वैक्सीन की दोनों डोज ली थी। राज्य के विविध इलाकों के मरीजों के नमूने लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग किया गया है। इसमें यह जानकारी सामने आई। डेल्टा प्लस के सबसे ज्यादा 13 मरीज उत्तर महाराष्ट्र में हैं। उसके बाद रत्नागिरी (12) और मुंबई (11) का नंबर आता है।

You might also like

Comments are closed.