Corona Treatment : कोरोना से इलाज कराने के लिए सरकारी बैंक देंगे 5 लाख रुपये तक का लोन

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – कोरोना से इलाज में आने वाले खर्च को लेकर सरकारी बैंकों ने बड़ा ऐलान किया है। इन बैंकों ने कोरोना मरीजों को 5 लाख रुपए तक का लोन देने का फैसला किया है। अब सरकारी बैंकों से कोरोना के इलाज के लिए 5 लाख का Covid Personal Loan दिया जाएगा। खास बात यह होगी कि यह कर्ज बिना किसी सिक्योरिटी के मिलेगा ताकि लोग अपना या परिवार में कोरोना पीड़िता का इलाज करवा सकें।

बैंकों ने यह फैसला ऐसे समय लिया है जब कोरोना वायरस की दूसरी लहर देश में हर आय वर्ग के लोगों पर कहर बनकर टूटी है। दरअसल जैसे ही कोरोना की दूसरी लहर तेज हो गयी कई लोगों को अस्पताल के ऑक्सीजन बेड, आईसीयू की जरूरत हुई। इससे देखते हुए भारतीय स्टेट बैंक और भारतीय बैंक संघ ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में इस योजना की घोषणा की है। इस योजना की घोषणा रविवार को एसबीआई के अध्यक्ष दिनेश खारा और भारतीय बैंक संघ के अध्यक्ष राजकिरण राय ने की है।

अगर आपको कोरोना के इलाज के लिए पैसे की जरूरत है तो ये सरकारी बैंक आपको असुरक्षित पर्सनल लोन देंगे। इसमें से 25,000 से 5 लाख रुपये वेतनभोगी, गैर-वेतनभोगी और पेंशनभोगियों को दिए जाएंगे। इस बार बैंकों ने स्पष्ट किया कि वे ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए हेल्थकेयर बिजनेस लोन भी दे रहे हैं। वित्त मंत्रालय ने हाल ही में घोषणा की थी कि अस्पतालों को 7.5 प्रतिशत की ब्याज दर पर 2 करोड़ रुपये तक का ऋण दिया जाएगा। ऋण ईसीएलजीएस 4.0 के अनुसार वितरित किया जाएगा। यह ऋण 100 प्रतिशत गारंटी के साथ नर्सिंग होम, ऑक्सीजन प्लांट के लिए दिया जाएगा।

इसके अलावा, कंपनियों को उनके बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए 100 करोड़ रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाएगा।

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए उचित ब्याज दरों पर पर्सनल लोन मुहैया कराया जाएगा। यह भी कहा जाता है कि योजना के व्यापक कार्यान्वयन के लिए नियम और शर्तें भी सरकारी बैंकों द्वारा तय की गई हैं।

You might also like

Comments are closed.