Cold Wave | ठंड से हो गए हैं परेशान, कब से राहत मिलने की संभावना? IMD ने दिया उत्तर

नई दिल्ली : उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में शीतलहर (Cold Wave) शनिवार के बाद धीरे-धीरे कम होने की संभावना है, जबकि 2 से 4 फरवरी के बीच उत्तर-पश्चिम, पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में बारिश (Rain) की संभावना है। भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department) के अनुसार, अगले 24 घंटों में उत्तर-पश्चिमी और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान में कोई खास बदलाव नहीं होगा, इसके बाद धीरे-धीरे 4-6 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि (Cold Wave) होगी।

 

तापमान में क्या परिवर्तन होगा? (Cold Wave)

 

मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, उत्तर पश्चिम (North West) और मध्य भारत (Central India) के अधिकांश हिस्सों में 2 फरवरी तक अधिकतम तापमान 3-5 डिग्री सेल्सियस बढ़ने और फिर गिरने की संभावना है। अगले चार दिनों में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में 15-25 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं (Cold Wave) चलने की संभावना है।

 

अगले 3 दिनों में पूर्वी भारत में न्यूनतम तापमान में खास बदलाव की संभावना नहीं है और इसके बाद यह 2-4 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाएगा।

 

शीत लहर बरकरार

 

आईएमडी (IMD) के अनुसार अगले 24 घंटों में पंजाब, हरियाणा-चंडीगढ़, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राजस्थान में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। हालांकि इसके बाद शीतलहर में कमी आएगी। अगले 24 घंटों में उत्तर प्रदेश, पूर्वी महाराष्ट्र और पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों में ठंड (Cold) रहने की संभावना है और उसके बाद तापमान में धीरे-धीरे वृद्धि होगी।

 

 

Ajit Pawar | पुणे में 1 फरवरी से स्कूल शुरू, 15 से 18 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन स्कूल में ही: अजित पवार

Pune News | जिला परिषद सदस्य कटके की  निधि से विभिन्न विकास कार्य, मांजरी खुर्द के विकास की स्वतंत्र योजना

Pune | पुणे का ईमानदार लॉन्ड्री चालक! प्रेस के लिए दिए कोट में मिले 6 लाख के जेवर किए वापस

You might also like

Comments are closed.