Chandrakant Patil | …तो नितीन गडकरी को भी समझाएंगे, नहीं तो सड़क पर उतेरेंगे- चंद्रकांत पाटिल

पुणे : Chandrakant Patil | ट्रैफिक नियमों (Traffic rules) को तोड़ने के बाद दंडात्मक कार्रवाई की जाती है। पिछले तीन वर्षों से सीसीटीवी द्वारा प्रमुख रूप से कार्रवाई की जाती है। नियम तोड़नेवालों के घर या मोबाईल पर इसकी जानकारी दी जाती है। यह जुर्माना न भरने पर यातायात विभाग (Traffic Department) की ओर से नाकाबंदी की जा रही है उसके बाद वाहनों की जांच कर जुर्माना वसूल किया जाता है। इस दंडात्मक कार्रवाई से पुणेकर परेशान हो गए हैं। क्योंकि शहर में जगह-जगह पर ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) गाड़ी रोककर जुर्माना वसूल करते दिख रही (Chandrakant Patil) है।

 

ट्रैफिक पुलिस के इस जुर्माना वसूली को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) से पूछ गया, तो उन्होंने कहा कि यह तानाशाही शुरू है, जुल्म हो रहा है, भारतीय जनता पार्टी इसका विरोध कर रही है। इसका विरोध करने के लिए भारतीय जनता पार्टी सड़क पर उतरेगी। हेल्मेट का इस्तेमाल जीवन रक्षा की दृष्टि से आवश्यक है, लेकिन दूसरी ओर इस पर इतना जुर्माना लगाया जाता है जो इंसान के जीवन से भी ज्यादा है। प्रबोधन करें, समझा कर इसका रास्ता निकाला जा सकता है, लेकिन ज्यादा से ज्यादा फाइन लेने से तो यह इंसान के जीवन से भी ज्यादा भयंकर हो जाएगा।

 

नितीन गडकरी (Nitin Gadkari) के विभाग ने यह दंड लगाना शुरू किया है, उनसे मिलकर कहेंगे कि इतने बड़े पैमाने पर दंड वसूलना अन्याय है। किसी नेता ने अपर्याप्त जानकारी के आधार पर कि इसका परिणाम क्या होगा, इस बारे में सोचे बिना निर्णय लिया है तो भारतीय जनता पार्टी उन्हें समझाएगी। इस विषय पर हम नितीन गडकरी से भी बात करेंगे, ऐसा चंद्रकंत पाटिल ने कहा।

 

 

 

Pune News | अब हेलमेट न पहनना पड़ेगा महंगा, पहली बार 500 रुपये और दूसरी बार पकड़े जाने पर 1500 का जुर्माना

 

Chandrakant Patil | भाजपा में जो-जो संयम रखते हैं, उन्हें ‘सब्र का फल मीठा है’ का अनुभव होता है- चंद्रकांत पाटिल

You might also like

Comments are closed.