Chandrakant Patil | राष्ट्रवादी के आरोप के बाद चंद्रकांत पाटिल का स्पष्टीकरण, कहा- ‘शरद पवार द्वारा की गई टिप्पणी के कारण…’

मुंबई (Mumbai News) : Chandrakant Patil | लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में जीप से कुचलकर 6 किसानों की हत्या (Murder) को लेकर देश भर में नाराजगी व्यक्त की जा रही है। इस हत्याकांड की तुलना राष्ट्रवादी के प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने जलियांवाला बाग हत्याकांड से की। उसके बाद महाराष्ट्र (Maharashtra) के उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) के रिश्तेदारों के घर पर इनकम टैक्स के अधिकारियों ने छापा मारा। शरद पवार के बयान की वजह से इनकम टैक्स ने छापा (Income Tax Raid) मारा, ऐसा आरोप राष्ट्रवादी की ओर से किया जा रहा है। इस पर अब भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

 

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (BJP State President Chandrakant Patil) ने कहा कि उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar) से संबंधित व्यक्ति के घर या कार्यालय पर इनकम टैक्स के रेड को भाजपा (BJP) से जोड़ना हास्यास्पद है। लखिमपुर खिरी प्रकरण पर राष्ट्रवादी कांग्रेस (Nationalist Congress) के अध्यक्ष शरद पवार द्वारा की गई आलोचना की वजह से यह छापा मारा गया यह बहुत बड़ा मजाक है।

 

चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि कल राज्य के विविध हिस्सों में इनकम टैक्स विभाग (Income Tax Department) ने छापा मारा। 6 महीने तक जानकारी इकट्ठी करने के बाद इस विभाग ने कार्रवाई की, ऐसा नोटिस में कहा गया है। ऐसी स्थिति में कुछ दिन पहले हुए लखिमपुर खिरी प्रकरण (Lakhimpur Khiri Case) को लेकर शरद पवार ने आवाज उठाई इसलिए यह छापा पड़ा है, इसमें कोई तथ्य नहीं है।

 

पाटिल ने आगे कहा कि राज्य के 25 जगहों पर और 15 कार्यालयों पर छापे की कार्रवाई 1-2 दिन में तैयारी कर नहीं की जा सकती। इनकम टैक्स ने इसके लिए पहले तैयारी की होगी।

 

राजनीतिक रंग देना हास्यास्पद

 

पाटिल ने कहा कि इनकम टैक्स विभाग स्वतंत्र केंद्रीय यंत्रणा है, वह कानून की सीमा में काम करता है। इनकम टैक्स विभाग ने कुछ आर्थिक लेनदेन का खुलासा किया है तो उसका कानूनी तरीके से उत्तर देना चाहिए। ऐसे छापों का संबंध भारतीय जनता पार्टी के साथ जोड़कर राजकीय रंग देना और खुद को निर्दोष साबित करना हास्यास्पद है।

 

 

Pune | वाघोली में सोमवार से लगातार 75 घंटे तक वैक्सीनेशन अभियान

You might also like

Comments are closed.