‘चंद्रकांत दादा, आप तो खुद के गांव का ग्राम पंचायत भी नहीं जीत पाए’, रुपाली चाकणकर का तंज

पुणे : भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने छगन भुजबल के बारे में बयान दिया था। उसके बाद अब राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष रुपाली चाकणकर ने इस पर निशाना साधा है। खुद के गांव में ग्राम पंचायत चुनाव भी नहीं जीत पाए। कोल्हापुर में वे महापौर भी नहीं बना पाए। इस वजह से आपको कोल्हापुर छोड़कर पुणे की एक महिला का सुरक्षित निर्वाचन क्षेत्र को चुनना पड़ गया।

कैबिनेट मंत्री छगन भुजबल के जमानत के मुद्दे पर चंद्रकांत पाटिल ने ब्यान दइया था। इस पर अब रुपाली चाकणकर ने ट्वीट कर जवाब दिया है। इसमे चाकणकर ने कहा है कि चंद्रकांत दादा पाटिल कोल्हापुर में आए बाढ के दौरान किए गए काम की वजह से अपने निर्वाचन क्षेत्र को छोड़कर हमारे पुणे में एक महिला के सुरक्षित निर्वाचन क्षेत्र को चुनना पड़ा। जलयुक्त शिवार, चिक्की घोटाला, मुंबई बैंक घोटाला जैसे अनेक घोटाले की जांच बाकी है। लेकिन अभी के परिस्थिति में लोगों के स्वास्थ्य की चिंता ही महत्वपूर्ण है। इसलिए हम शांत हैं। इस आपात स्थिति से बाहर निकले तो सारे जांच किए जाएंगे।

साथ ही जो अपने ग्रामपंचायत को अपने कब्जे में न रख पाए ऐसे विधायक महोदय ने मग्रूरपणा दिखाते हुए किसी के बारे में न बोले। आपके कई नेता जमानत पर बाहर हैं। थोड़ा पीछे देखे तो आपको आपका इतिहास पता चलेगा। चंद्रकांत पाटिल कओ कोरोना संकट से कोई लेना-देना नहीं है। इसे महंगा पड़ेग, उसे देख लेंगे, उस पर मामला दर्ज करे, उसे अंदर डाले, ऐसे विषयो पर पीएचडी पूरा के चंद्रकांत दादा एम.फिल कर रहे हैं, ऐसा रुपाली चाकणकर ने कहा।

You might also like

Comments are closed.