CA, CS, ICWA की डिग्री अब पोस्ट ग्रेजुएशन के बराबर, यूजीसी से मिली मान्यता

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम –

सीए की पढ़ाई करने वाले छात्रों को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने खुशखबरी दी है। सीए, सीएस और आईसीडब्लूए की डिग्री पोस्ट ग्रेजुएशन के बराबर मानी जाएगी। स्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया और अन्य संस्थाओं की अपील पर यूजीसी ने लिया है। आईसीएआई का कहना है कि इस फैसले से सीए छात्रों को उच्च शिक्षा हासिल करने में मदद मिलेगी।

यूजीसी द्वारा जारी आधिकारिक आदेश के अनुसार यूजीसी को भारत के चार्टर्ड एकाउंटेंट्स संस्थान (आईसीएआई), इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया (आईसीएसआई) और इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया से योग्यता प्राप्त करने के लिए अनुरोध प्राप्त हुए थे। आदेश में आगे कहा गया है कि इस पर विचार करने के लिए, यूजीसी द्वारा एक समिति का गठन किया गया था। आयोग ने विशेषज्ञ समिति की सिफारिश पर विचार किया और संकल्प लिया कि सीए, सीएस और आईसीडब्ल्यूए योग्यता को पीजी डिग्री के बराबर माना जाएगा।

बता दें कि देश 109 विश्वविद्यालय सीए, सीएस और आईसीडब्ल्यूए के छात्रों को स्नातकोत्तर मानकर पीएचडी करा रहे हैं, किंतु यूजीसी से कोई भी निर्देश न मिलने की वजह से कुछ विश्वविद्यालय पीएचडी कराने से मना कर रहे थे। इसलिए पिछले दो सालों से यूजीसी से यह मांग की जा रही थी। आईसीएआई के सीसीएम धीरज खंडेलवाल ने ट्वीट कर कहा कि यूजीसी ने सीए (CA), सीएस (CS) और आईसीडब्ल्यूए (ICWA) क्वालिफिकेशंस को पीजी डिग्री की मान्यता दी है। यह हमारे पेशे के लिए बड़ी उपलब्धि है।

You might also like

Comments are closed.