म्यूकर मायकोसिस इंजेक्शन की कालाबाजारी उजागर

महिला समेत पांच आरोपी गिरफ्तार; गुंडा स्क्वॉड की कार्रवाई
संवाददाता, पिंपरी। रेमडेसीवीर और कोरोना के इलाज में उपयुक्त इंजेक्शनों के बाद अब म्यूकर मायकोसिस एंटी फंगल इंजेक्शन की कालाबाजारी की जा रही है। पिंपरी चिंचवड़ पुलिस के गुंडा स्क्वॉड ने ऐसा एक मामला सामने लाते हुए एक महिला समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। सोमवार की दोपहर पौने एक बजे के करीब वाकड में की गई इस कार्रवाई में चार इंजेक्शन, एक दोपहिया, चार मोबाईल कुल एक लाख 69 हजार रूपये का माल बरामद किया गया।
इस मामले में गौरव जयवंत जगताप (31, निवासी कालाखडक रोड, वाकड, पुणे), अमोल अशोक मांजरेकर (39, निवासी सूसरोड, पाषाण, पुणे), गणेश काका कोतमे (32, निवासी जनता बसाहत, पुणे), ममता देवरावजी जलीत (24, ज्ञानदीप स्कूल के पास, रुपीनगर, पुणे) और प्रदीप बालासाहेब लोंढे (35, निवासी राजेवाडी झोपडपट्टी, नाना पेठ, पुणे) को गिरफ्तार किया गया है। उनके अलावा बसवराज नामक उनके एक अन्य साथी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, उसकी तलाश जारी है। इस बारे में एफडीए की दवा निरीक्षक भाग्यश्री अभिराम यादव (44, निवासी धनकवडी, पुणे) ने वाकड पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है।
पुलिस आयुक्त कृष्ण प्रकाश ने एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी जानकारी देते हुए बताया कि, क्राइम ब्रांच के पुलिस उपायुक्त सुधीर हिरेमठ को वाकड में कुछ लोगों के म्यूकर मायकोसिस की बीमारी के इलाज में उपयुक्त इंजेक्शन की बिक्री के लिए आने की जानकारी मिली। इसके अनुसार एंटी गुंडा स्क्वॉड के सहायक पुलिस निरीक्षक हरीश माने, कर्मचारी हजरत पठाण, गणेश मेदगे, शुभम कदम, राम मोहिते, विनोद तापकीर की टीम ने जाल बिछाकर चार आरोपियों को धरदबोचा। उनके पास से तीन इंजेक्शन बरामद किए गए।
ये इंजेक्शन उन्होंने आरोपी गौरव के वाकड स्थित गौरव मेडिकल स्टोर से हासिल किए जाने की बात कही। अमोल पाषाण के गणेश मेडिकल स्टोर में सेल्समैन है। उसे इस ट्रांजेक्शन के लिए 8500 रुपये मिलनेवाले थे। आरोपी गणेश कसबा पेठ के यूनिवर्सल हॉस्पिटल में बाउंसर है उसे साढ़े छह हजार रुपए कमीशन मिलने वाला था। आरोपी ममता मोशी के कोरोना केयर सेंटर में नर्स है उसे कुल 26 हजार रुपए मिलनेवाले थे। उसने अपने साथियों के जरिये 3 इंजेक्शन मंगाए थे। आरोपियों ने शामिल लोंढे प्राप्ति मेडिकल स्टोर का मालिक है और वह 54 हजार रुपए के इंजेक्शन 65 हजार रुपए में बेचता पाया गया। इन आरोपियों से चार इंजेक्शन, एक दोपहिया, चार मोबाईल कुल एक लाख 69 हजार रूपये का माल बरामद किया गया।
You might also like

Comments are closed.