भोसरी पुलिस की बड़ी कार्रवाई: मिलावटी डीजल बेचनेवाली टोली का पर्दाफाश

पिंपरी: मिलावटी डीजल बेचने वाली टोली का पर्दाफाश किया गया। मिलावटी डीजल आपूर्ति कराने वाले, डीलर, दो सब डीलर और दो ग्राहक, कुल मिलाकर 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनके पास से दो टैंकर, एक फोर व्हीलर, कुल मिलाकर 37 लाख 15 हजार 200 रुपये का माल जब्त किया गया है। भोसरी पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

आपूर्ति कराने वाला कैलाश पंजाबी, डीलर सुधीर बागलाने, सब डीलर सतीश कदम, रोहन शशिकांत हडपे, ग्राहक शहनवाज नजीर बेग, शौकत नजीर बेग गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम है। पुलिस आयुक्त कृष्ण प्रकाश द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार उन्हे  पता चला था   कि भोसरी स्थित लांडगे नाट्यगृह के पास स्थित खाली मैदान में मिलावटी डीजल की बिक्री हो रही है।

इसके अनुसार भोसरी पुलिस ने 2 अप्रैल को रात साढ़े 8 बजे जाल बिछाकर कारवाई की। पुलिस ने एक फोर व्हीलर, दो आईबीसी टैंक, ऑयल बिक्री की रीडिंग दिखानेवाली मशीन, डीजल मापने के साधन, कुल मिलाकर 7 लाख 75 हजार 200 रुपये का माल जब्त किया गया। इसमे पुलिस ने आरोपी ऋषिकेश और रोहन को गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार आरोपी ने जानकारी दी कि मिलावटी डीजल सुधीर बागलाने के पास से लाए हैं। साथ ही बागलाने द्वारा किए गए डीजल का स्टॉक भी आरोपियों ने पुलिस को दिखाया। इसके अनुसार पुलिस ने बागलाने को गिरफ्तार कर उसके पास से दो टैंकर , 20 हजार लीटर मिलावटी डीजल, कुल मिलाकर 29 लाख 40 हजार का माल जब्त किया। बागलाने को मिलावटी डीजल की आपूर्ति करनेवाले मुख्य डीलर कैलाश पंजाबी और दो ग्राहकों को भी गिरफ्तार किया।

यह कारवाई भोसरी पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक शंकर आवताडे, निरीक्षक (क्राइम) जितेंद्र कदम, पुलिस कर्मचारी गणेश हिंगे, विनायक म्हसकर, अनिकेत पाटोले, सुमित देवकर, समीर रासकर, गणेश सावंत, विनोदवीर, संतोष महाडिक, मार्तंड बांगर की टीम ने की है।

बायो डीजल के रूप में बिक्री

पेट्रोल व डीजल के दाम रोजाना बढ़ रहे हैं। हालांकि आरोपी मिलावटी डीजल प्रति लीटर 72 रुपये के दर से बेच रहे थे। इसलिए कुछ ग्राहक इसके बारे में पूछने लगे, इतना सस्ता डीजल कैसे बेच रहे हो। आरोपी ने संबंधित ग्राहक से कहा कि हम बायो डीजल बेच रहे हैं इसलिए यह सस्ता है।

रैकेट तीन महीने से सक्रिय

शहर में मिलावटी डीजल बेचने वाला रैकेट 3 महीने से सक्रिय है। इस कार्रवाई में मिलावटी डीजल जब्त किया गया। पुलिस आयुक्त कृष्ण प्रकाश ने संदेह व्यक्त करते हुए कहा कि उनके पास इसका और भी स्टॉक हो सकता है। प्लास्टिक के टैंक में भरकर प्रतिदिन एक हजार लीटर मिलावटी डीजल फोर व्हीलर से बिक्री के लिए ले जाते थे। जहाँ पर बहुत सारे वाहन पार्क होते थे उन जगहो पर जाकर इस डीजल को 72 रुपये प्रति लीटर के दर से बेच रहे थे। प्राइवेट ट्रैवल्स बस की पार्किंग, भारी वाहनो की पार्किंग, साथ ही जहाँ बड़े पैमाने पर वाहन रुकते थे उन जगहो को मिलावटी डीजल बेचने के लिए चुनते थे।

You might also like

Comments are closed.