धारा 370 हटाने से पहले PM मोदी ने बनाया था यह प्लान, जानिए 

नई दिल्ली : समाचार ऑनलाईन – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने के निर्णय के सन्दर्भ में महत्वपूर्ण बयान देते हुए कहा कि यह निर्णय काफी विचार विमर्श करने के बाद लिया गया है ।   एक इंग्लिश डेली न्यूज़ पेपर को दिए गए इंटरव्यू में मोदी ने इस सन्दर्भ में कई तरह की जानकारी देते हुए कहा कि यह निर्णय कश्मीर के विकास के लिए महत्वपूर्ण है ।

रोजगार और निवेश बढ़ेगा 
कश्मीर से धारा 370 हटाने से यहां रोजगार और निवेश बढ़ेगा और स्थनीय लोगों का विकास होगा। देश के अन्य राज्यों की तरह कश्मीर के विकास में भी गति आएगी इसे लेकर मैं आश्वस्त हूं ।
कश्मीर में निवेश के लिए पोषक वातावरण बनेगा
मोदी ने कहा कि देशभर के कई उधोगपति मुझसे कश्मीर में निवेश करने की इच्छा जाहिर किया है ।   ऐसा निवेश सभी के विकास की दृष्टि से जरुरी है ।   लेकिन निवेश के सुरक्षित और पोषक वातावरण हो ताकि बाजार स्थिर रहे और कानून व्यवस्था बनी रहे. धारा 370 हटाने के बाद इसी दृष्टि से विचार किया जा रहा है ।   खुले विचार और अर्थव्यवस्था क्षेत्र के युवको की प्रगति की दिशा के लिए मदद करेगी और आज के समय में आर्थिक विकास बंद दरवाजे से नहीं हो सकती है ।
इस तरह होगा विकास 
खुले निवेश से कश्मीर में पर्यटन, खेती, आईटी और हेल्थ के क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा मिल सकता है ।  युवको को शैक्षणिक मौके प्राप्त होंगे जिससे इस परिसर में अधिक से अधिक रोजगार पैदा होगा। शैक्षणिक मौके उपलब्ध कराने के लिए आईटीआई, आईएमआई, एम्स जैसी संस्थाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। सरकार की प्राथमिकता जम्मू-कश्मीर में अधिक से अधिक सुविधाओं का निर्माण करना है ।  रोड, नए रेलवे लाइन एयरपोर्ट जैसे विकास के आयाम से राज्य का विकास होगा।  इससे राज्य को अन्य प्रदेशों से जोड़ने में मदद मिलेगी।

Comments are closed.