BCCI का बड़ा फैसला, कोरोना के कारण IPL के अंत तक घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट स्थगित

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के प्रभाव को देखते हुए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने बड़ा फैसला लिया है। जिसके मुताबिक, सभी ऐज-ग्रुप टूर्नामेंट निलंबित करने का फैसला लिया है। इसमें मई-जून में होने वाला वीनू मांकड़ अंडर-19 टूर्नामेंट भी शामिल है। बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आईपीएल 2021 के बाद हालात की समीक्षा की जाएगी और फिर घरेलू टूर्नामेंट कराने पर विचार किया जाएगा।

वीनू मांकड़ ट्रॉफी को लेकर जय शाह ने कहा कि इस दौरान कई राज्यों में बोर्ड की परीक्षाएं होनी हैं। ऐज-ग्रुप टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ी भी इन परीक्षाओं का हिस्सा होंगे। इसलिए टूर्नामेंट आयोजन नहीं कराया जा सकता है। इस संबंध में बोर्ड सचिव शाह ने राज्य क्रिकेट संघों को एक चिठ्ठी भी लिखी है।  चिठ्ठी के मुताबिक, मौजूदा हालात में अगर ऐज-ग्रुप टूर्नामेंट कराया जाता है तो खिलाड़ियों को एक से दूसरे शहर में यात्रा करनी पड़ेगी, कड़े क्वारैंटाइन नियमों का पालन करना होगा और बायो सिक्योर बबल में रहना पड़ेगा, जो फिलहाल ठीक नहीं है।

शाह ने अपनी चिठ्ठी में लिखा है कि हमारे लिए खिलाड़ियों का स्वास्थ्य और सुरक्षा पहली प्राथमिकता है। मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि आईपीएल 2021 के बाद ऐज-ग्रुप टूर्नामेंट के लिए सही विंडो तलाशी जाएगी। आईपीएल का 14वां सीजन 9 अप्रैल से 30 मई तक होना है। बता दें कि कोरोना के बीच इस साल की शुरुआत में घरेलू टी20 टूर्नामेंट सैयद मुश्ताक अली और वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी भी कराई गई। दोनों ही टूर्नामेंट के लिए बायो सिक्योर बबल बनाए गए थे और चुनिंदा शहरों में ही पूरा टूर्नामेंट हुआ था। लेकिन एक बार फिर कोरोना के पैर पसारने से बीसीसीआई अलर्ट हो गयी है। कोई रिस्क उठाना नहीं चाहती है।

You might also like

Comments are closed.