रेखा जरे हत्याकांड का मुख्य सूत्रधार बाल बोठे हैदराबाद से गिरफ्तार

अहमदनगर: यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्षा रेखा जरे हत्याकांड के मुख्य सुत्रधार बाल बोठे को आखिरकार नगर पुलिस ने शनिवार सुबह हैदराबाद में गिरफ्तार कर लिया। स्थानीय क्राइम ब्रांच की टीम ने यह कार्रवाई की है। बीते साढ़े तीन महीने से बोठे पुलिस को चकमा दे रहा था।

रेखा जरे की 30 नवंबर को नगर-पुणे हाईवे पर जातेगांव फाटा में दो आरोपियो ने गला रेत कर हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद दो दिन में पुलिस ने हत्यारों के साथ ही पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। हत्या की सुपारी देने वाले मुख्य सुत्रधार बोठे फरार था। पुलिस टीम उसे ढूंढ रही थी। आखिरकार उसे हैदराबाद में गिरफ्तार कर लिया गया। अब यह सामने आना बाकी है सुपारी देकर बोठे ने जरे की हत्या क्यों कराई। वही कोर्ट ने बोठे को फरार घोषित करते हुए 9 अप्रैल तक कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया था।

क्या है मामला?

रेखा भाऊसहेब जरे की 30 नवंबर को हत्या हुई थी। र्राजकीय क्षेत्र की महिला की दिनदहाड़े परिवार के सामने हत्या होने से खलबली मच गई थी। राष्ट्रवादी कांग्रेस की कार्यकर्ता होने के कारण रेखा जरे की हत्या प्रकरण की सबकी नज़र टिकी हुई थी। रेखा जरे अपनी गाड़ी से सोमवार शाम पुणे से अहमदनगर की ओर जा रही थी। इस वअक्त उनके साथ उनका बेटा और उनकी माँ भी थी। कार की कांच बाइक को लगी है, ऐसा कहकर बाइक वाले दोनो माँ बेटे से भिड़ गए। उसके बाद रेखा जरे के गले पर धारदार हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी। अहमदनगर जिले में पारनेर तालुके के जातेगांव में यह घटना हुई। अपराधियों ने धारदार हथियार से वार किया था, उसके बाद घायल अवस्था में जरे को अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

अहमदनगर पुलिस ने जांच शुरू की और तीन दिन के अंदर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। उसके बाद मुख्य सुत्रधार को ढूंढने की शुरुआत कर दी। शुरुआत मे कहा जा रहा था कि रोडरेज में हुए विवाद के कारण रेखा जरे की हत्या हुई है। लेकिन आरोपियों ने जब हत्या की सुपारी की बात कबूली तो इस पर से पर्दा उठा।

You might also like

Comments are closed.