पुराने वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने से बचें, अफवाहों पर ध्यान न दें; मध्य रेलवे की अपील

पुणे : विभिन्न स्टेशनों पर भीड़ दिखाने वाले कुछ पुराने वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। कुछ न्यूज रिपोर्टों में इस बात का भी झूठा उल्लेख किया गया है कि स्टेशन पर लोगो का जन सैलाब उमड़ा हुआ है। हम सभी से अपील करते हैं कि ऐसे वीडियो को शेयर करने से बचें। लोगों से अनुरोध है कि वे ऐसी अफवाहों पर विश्वास न करें। यह अपील मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ने की है।

सेंट्रल रेलवे ने उन खबरों को गलत बताया है जिनमें कहा जा रहा है कि मुंबई से प्रवासी मजदूरों की खचाखच भरी ट्रेनें यूपी और बिहार के लिए रवाना हुई हैं। सोशल मीडिया पर वीडियो के वायरल होने के बाद सेंट्रल रेलवे ने बयान जारी किया है। मध्य रेलवे के महाप्रबंधक संजीव मित्तल ने आज एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी से अपील की कि कोविड 19 की ऐसी चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में किसी भी तरह की अटकलें से बचे।

उन्होंने यह भी कहा कि रेलवे यात्रियों की सुविधा के लिए गर्मियों में अधिक रेलगाड़ियां चलाता है और अभी पर्याप्त टिकट उपलब्ध हैं क्योंकि केवल कन्फर्म टिकट ही यात्रियों को दिया जा रहा है। मित्तल ने कहा कि यात्रियों को बोर्डिंग, यात्रा और गंतव्य के दौरान COVID19 से संबंधित सभी मानदंडों,  एसओपी का पालन करने की सलाह दी जाती है।

मुंबई डिवीजन के रेल प्रबंधक शलभ गोयल ने भी यात्रियों से सही ढंग से मास्क पहनने,  साबुन / पानी और सेनिटाइजर से नियमित रूप से हाथ धोने और COVID19 के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की।

इन स्टेशनों पर नहीं मिलेंगे प्लेटफॉर्म टिकट

COVID19 के प्रसार को रोकने के उद्देश्य से  रेलवे प्रशासन ने मुंबई डिवीजन के कुछ स्टेशनों पर तत्काल प्रभाव से प्लेटफ़ॉर्म टिकट जारी करना बंद करने का निर्णय लिया है। ये स्टेशन हैं- छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, लोकमान्य तिलक टर्मिनस,  कल्याण,  ठाणे,  दादर और पनवेल।

You might also like

Comments are closed.