Art Director Rajesh Sapte Suicide Case | राजेश साप्ते आत्महत्या मामले में राकेश मौर्य गिरफ्तार, वाकड पुलिस ने की कार्रवाई 

 

पिंपरी, 16 जुलाई : मराठी आर्ट डायरेक्टर राजेश साप्ते (Art Director Rajesh Sapte Suicide Case) ने आत्महत्या करने का वीडियो शेयर (Video share) कर फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली थी।  इस मामले में वाकड पुलिस स्टेशन (Wakad Police Station) में पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।  पुलिस पहले ही बिज़नेस पार्टनर चन्दन ठाकरे और नरेश मिस्त्री को गिरफ्तार (Arrested) कर चुकी है।  राजेश साप्ते आत्महत्या मामले में और एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।  वाकड पुलिस ने साप्ते को धमकाने वाले राकेश मौर्य को गिरफ्तार कर लिया है।  मौर्य को गुरुवार को पुराने पुणे-मुंबई हाईवे (Pune-Mumbai Highway) के होटल कीज के पास से गिरफ्तार किया गया।

राकेश सत्यनारायण मौर्य (उम्र 47, नि – कांदिवली ईस्ट, मुंबई) को गिरफ्तार किया गया है।
इससे पहले चन्दन रामकृष्ण ठाकरे (उम्र 36, नि – एकतानगर, कांदिवली वेस्ट, मुंबई ) और नरेश मिस्त्री को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।  जबकि गंगेश्वर श्रीवास्तव (संजूभाई ) और अशोक दुबे फरार है।  इस मामले में सोनाली राजेश साप्ते (उम्र 45, नि – ताथवडे, फ़िलहाल नि – कांदिवली वेस्ट, मुंबई ) ने वाकड पुलिस स्टेशन में  शिकायत दर्ज कराई है।
इन आरोपियों पर फेमस आर्ट डायरेक्टर राजेश साप्ते को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप है।
आत्महत्या करने से पहले राजेश साप्ते ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया था।  इसमें उन्होंने नरेश मिस्त्री का नाम लिया था।  उन्होंने आरोप लगाया था कि वह उन्हें बहुत दिनों से धमकियां दे रहा है।  वीडियो में जिस नरेश मिस्त्री का जिक्र किया गया था पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।
राजेश साप्ते ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या की थी।  उन्होंने एक वीडियो और एक सुसाइड नोट छोड़ा था।  इसमें कुछ लोगों दवारा उन्हें परेशान करने की जानकारी पुलिस को मिली थी।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पांच लोगों ने साजिश रच कर राजेश साप्ते को जान से मारने की धमकी दी थी।  साथ ही लेबर को काम पर नहीं आने देने और व्यावसायिक नुकसान पहुंचाने की धमकी दी थी।  राजेश से दस लाख रुपए और हर प्रोजेक्ट के लिए एक लाख रुपए देने की मांग की गई थी।  राजेश को ढाई लाख रुपए भी देने पड़े थे।
इस मामले में वाकड पुलिस ने नरेश विश्वकर्मा (मिस्त्री ), गंगेश्वर श्रीवास्तव (संजूभाई ), राकेश मौर्य, चन्दन ठाकरे और अशोक दुबे के खिलाफ केस दर्ज किया हैं।  इस मामले में अब तक तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।  वाकड पुलिस के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर विवेक मुगलीकर और उनकी टीम मामले की जांच कर रही है।
You might also like

Comments are closed.