API  सचिन वाझे ‘इस’ बीमारी से परेशान; मेडिकल रिपोर्ट आई सामने

मुंबई : उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक से भरे स्कार्पियो मिलने के मामले में सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाझे को एनआईए ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में वाझे से कड़ी पूछताछ की जा रही है। इससे पहले वाझे की तबियत बिगड़ने के कारण उन्हे जे. जे अस्पताल ले जाया गया था। उनके मेडिकल रिपोर्ट में मधुमेह (शुगर) होने की जानकारी सामने आई।

सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाझे को इलाज के बाद फिर से एनआईए के कर्यालय में लाया गया। गिरफ्तार किए गए वाझे को विशेष न्यायालय ने 25 मार्च तक एनआईए की कस्टडी सुनायी थी। एनआईए के इस कारवाई के बाद वाझे को निलंबित किया गया। वाझे को पुलिस सेवा से दूसरी बार निलंबित किया गया है।  अंबानी के घर के पास कार रखने का उद्देश्य क्या था? डर दिखाकर क्या हासिल करना था, इसकी जांच शुरू है।

सिर्फ अपने दम पर वाझे इतनी बड़ी हिम्मत नहीं कर सकते, अधिकारियो को संदेह है कि इसके पीछे जरूर किसी वरिष्ठ अधिकारी या नेता का हाथ है। वाझे किसके संपर्क में थे, इसकी जानकारी ली जा रही है। इसी बीछ एनआइए को वाझे के खिलाफ कुछ पुख्ता सबूत मिले हैं। वाझे द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली गाड़ी 24 फरवरी और 13 मार्च को मुंबई के पुलिस मुख्यालय से बाहर निकलते हुए दिख रही है। ये दोनो सीसीटीवी फुटेज एनआईए के हाथ लगी है। वाझे की इनोवा कार 24 मार्च को ठाणे गई। इसी दिन नंबर प्लेट बदलने का शक एनआईए को है।

You might also like

Comments are closed.