सेवा विकास बैंक के पूर्व चेयरमैन अमर मूलचंदानी के खिलाफ एक और मामला दर्ज

पिंपरी। धोखाधड़ी और कर्ज घोटालों के मामलों में गिरफ्तार रहे पिंपरी चिंचवड़ की अग्रणी सेवा विकास बैंक के पूर्व चेयरमैन, भूतपूर्व नगरसेवक एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता एड अमर मूलचंदानी की दिक्कतें कम होने का नाम नहीं ले रही है। अभी हालिया जिला सत्र न्यायालय ने उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी है। इसके तुरंत बाद उनके साथ पौने छह करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का एक और मामला दर्ज किया गया है।
इस बारे में सेवा विकास बैंक की ओर से विजयकुमार गोपीचंद रामचंदानी (52, निवासी विजय निवास, पिंपरी, पुणे) ने शिकायत दर्ज कराई है। इसके अनुसार पिंपरी पुलिस ने बैंक के पूर्व चेयरमैन अमर मुलचंदानी, मैनेजर रश्मी तेजवानी, अकाउंटंट हरीश चुगवाणी, सहायक जनरल मैनेजर विजय चांदवानी, जॉईंट सीईओ रमेश हिंदुजा, एडिशनल सीईओ हिरामनी मुलाणी, सीईओ तुलजो नारायण लखाणी, कोरेगांव पार्क शाखा मैनेजर उर्वशी उदरमाणी, शहाबाज अब्दुल अजीज शेख, हया शहाबाज शेख, शितल तेजवानी, महादेव उर्फ बल्ला साबले, गणेश वर्मा, किशोर केसवानी और बैंक के निदेशक मंडल, पिंपरी मुख्य कार्यालय के अधिकारी व कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, फर्जी महिला कर्जदार के फर्जी कागजात बनाकर रजिस्ट्रेशन करने के बाद बलात्कार का झूठा मामला दर्ज कराने की धमकी देकर ब्लैकमेल करते हुए आर्थिक धोखाधड़ी की गई। इस मामले में अमर मूलचंदानी समेत 30 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद उस फर्जी कर्ज की करीबन पौने छह करोड़ रुपए की किश्तें बकाया रहने को लेकर मूलचंदानी और अन्य आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मूलचंदानी को बैंक के साथ धोखाधड़ी करने के मामलों में पिंपरी चिंचवड़ पुलिस ने कुछ दिन पहले मुंबई से गिरफ्तार किया था। तब से वे पुलिस की हिरासत में है। हालिया उनकी जमानत याचिका को जिला सत्र न्यायालय ने खारिज कर दी है। इसके बाद उनके खिलाफ धोखाधड़ी का एक और मामला दर्ज हो गया है। कुल मिलाकर उनकी दिक्कतें कहीं कम होती नजर नहीं आ रही है।
You might also like

Comments are closed.